• luckiie 15w

    I want him to be mine, but I'm afraid of the rejection!!

    Read More

    उसे देख कर मैं ख़ामोश हो जाती हूँ
    मंज़िल को पास देख, राह भूल जाती हूँ!
    ख़्वाब देखती हूँ इज़हार-ए-इश्क़ के
    मगर उसके इनकार से डर जाती हूँ!
    सोचती हूँ छोड़ दूँ ख़याल उसे पाने का..
    पर हर दफ़ा, उन दो नैनों से हार जाती हूँ!!
    ©luckiie