• adhure_lafj 22w

    ★गुलाब★

    अब काटों से,
    उलझते हो तो गम कैसा?

    तुम्हें ही तो हसरत थी,
    सबसे हसीन गुलाब की।
    ©adhure_lafj