• poetrygasm 27w

    हदें पार हो गयी बाजारियत की
    तुमने खरीदना भी नही चाहा
    और हम यूहीं बिक गये |

    ©beyondinfinities | Shreejit Nair