• neelamarora 33w

    ज़िन्दगी

    ये ज़िन्दगी जीने में,
    कुछ अलग ही शय है यारो,
    बेतरतीब, बेरौनकी, मतलबी
    दुनिया मे सकून कहाँ !
    ये सकून, ये इश्क, ये ख़ुशी
    तो बस अहसास है,
    सिर्फ महसूस होते हैं
    सच में इनका वजूद कहाँ !!!!