• kahaanikaar 38w

    आरज़ू

    ख्वाहिश है तो बस इतनी सी
    कि एक जहान मेरा भी हो
    उसके छोटे से आबाद शहर में
    एक मकान मेरा भी हो।

    आरज़ू है तो बस इतनी ही
    कि एक यादों का बक्सा मेरा भी हो
    उसकी जिंदगी भर के तजुर्बों में
    एक किस्सा मेरा भी हो।

    ©kahaanikaar