• veer_mr_shaayar 6w

    बयान नहीं होती तुमसे मेरे दिल की बातें...
    जो बयान करना चाहूँ...
    तो कम्बख्त ये लफ्ज़ मेरा साथ नहीं निभाते...

    - अंदाज - ए - शायराना