• disharantiya 5w

    बड़ी मसहूर थी उसकी हंसी भरे जमाने में
    करीब से देखा वो रोता थी बच्चों सी मयखानें मे
    ©disharantiya