• sumerjain 6w

    चलो आज फिर उस महफ़िल में चलते है,
    चलो आज फिर अपनो से मिलते है,
    चलो आज फिर पुराने लम्हो को जीते है,
    चलो आज फिर कुछ लम्हो को साथ गुजारते है,
    चलो दोस्तो आज सालो बाद सब भूलकर चंद लम्हे साथ बैठ जाते है।
    ©sumerjain