• trishavi 13w

    बस,,

    बहुत सी उलझने रहती हैं ,,
    ☕जिन्हें चाय के कप से रोज रुह मे उतार देती हुँ।।

    ©trishavi