• aashiii 22w

    उस कैद को उसने मोहब्बत का नाम दिया था
    फिर जब पंछियों को आसमां में उड़ते मैंनेे देखा तो अहसास हुआ
    मेरी मोहब्बत वो नहीं, आज़ादी है।

    ©aashiii