• kumar_atul 6w

    Jeetega whi jisme sachhai hogi����

    #hindiwriters

    Read More

    दो ख्वाब

    मैदान में जंग दो ख़्वाबों की लगी हैं,
    .
    एक और रात की ठंडक है,तो दूसरी और इन् हाथों की छांव।

    ©kumar_atul