• ranjeetkumar 15w

    हर राह पर तुम्हे तलाश करती है निगाहें....
    काश यादों से निकल कर तुम रूबरू हो जाओ....
    ©ranjeetkumar