• jaya2711 15w

    ज़िंदा है...

    तेरी पायल के घुँघरुयो में बजती,
    हाथो की चूड़ियों में खनकती,
    होठों की लाली में चहकती,
    चेहरे की वो हया ज़िंदा है...
    आज भी तुझसे की मोहब्बत ज़िंदा है ।

    मुझे देख जब तू शर्माती,
    छू लू तो कांप सी जाती,
    लफ़्ज़ों से संगीत पिरोती,
    ज़िस्म की ख़ुशबू निशा तक महकती,
    पूरे बदन से टपकती वो चमक ज़िंदा है...
    आज भी तुझसे की मोहब्बत ज़िंदा है ।
    ©jaya2711