• reemasingh 6w

    (बेवजह ख्वाब)

    जब जिंदगी ही झूठ से शुरू हुई हो,
    तो ख्वाब कैसे हकीकत से मुखातिब होते।।

    By_रीमा सिंह(RS)
    ©reemasingh