• nakul_ 3w

    #शोहरत

    तू बेशक अपनी महफिल मे मुझे बदनाम करती हैं..
    मेरी खामोशी मेरी जुबान का काम करती है ।
    इसी बात से लगा लेना मेरी शोहरत का अन्दाजा..
    वो मुझे सलाम करते है ,
    जिन्हे तु सलाम करती हैं..
    ©nakul_