• ajasha 22w

    रात फिर अश्को में बीती
    न नींद आई
    न अश्क़ रुके

    कोई तो बताओ
    इस दर्द का ईलाज
    किसको सुनाऊ अपनी आप बीती ।

    ©ajasha