• raginimaurya_ 15w

    एक इन्सानी हकीक़त ये भी है कि हर इन्सान के दो पहलू हैं,बिल्कुल सिक्के की तरह..
    और ज़रूरी बात ये भी है की वास्ता उस पहलू से रखा जाये जिसे हम जानते हैं..
    जिस पहलू से कभी रूबरू ही नहीं हुए उससे रिश्ता ही क्या? और शिकायत कैसी?
    ©raginimaurya_