• _stan__ 16w

    "कुछ अलग"

    ऐ ज़िन्दगी तेरी अदाकारी के हिसाब कुछ अलग।
    मेरी मालूमात के हिसाब कुछ अलग।।
    तेरी जहानत से वाकिफ़ होना भी कुछ अलग।
    सारे हिसाबों के दायरे भी कुछ अलग।।

    ©seekin_destiny