• kavish_kumar 10w

    गुल है तन्हाई में वो गुलज़ार जुदा-जुदा है..

    चेहरे पर रूप है प्रेम की खुशबू गुमशुदा है..

    ©Aatish ��