• thelifelearner 16w

    “काफ़िर”

    हमारा वक़्त “काफ़िर” होता गया और उस शख़्स के हम “गुनाहगार”होते चले गये-एक सोच।