• bairaagikraag 15w

    शब्दों का खेल

    मेरे शब्द भी लुक्का छुपी खेलते हैं मेरे साथ,
    खुसी में न जाने कहाँ छुप जाते हैं,
    और गम में फूट फुट कर बाहर आते हैं।
    ©bairaagikraag