• ripudamanjhapinaki 5w

    मन तड़पे और अँखियाँ रोये
    आप में ही हम...खोये खोये
    आशाएं.........जागे न सोये
    मेरा दर्द न.........जाने कोये
    "पिनाकी"

    Read More

    मन तड़पे और अँखियाँ रोये
    आप में ही हम...खोये खोये
    आशाएं.........जागे न सोये
    मेरा दर्द न.........जाने कोये
    "पिनाकी"
    ©ripudamanjhapinaki