• angelthakur 14w

    रिश्तों में भी शक एक ऐसा कीड़ा है।
    जो खुद को तो डंसता ही है।
    बल्कि उसके साथ उन सभी में वो जहर फैला देता है,
    जो उससे आपस में एक धागे से बंधे हुए हैं।

    Read More

    आदत भी वही बनती है
    जो ज़हर फैला दे
    ऐसी आदत को ना पाल
    जो तुझे आदि बना दे।
    ©angelthakur