• vibhaaaash 6w

    मंज़िल

    अरे 'विभाष' बहुत दूर निकल आया है तू अपनी मंज़िल से।।
    अब तो तेरी वापसी का हर एक पल सुहाना होगा।।