• _mohit_m_k_ 5w

    अब तो ख्वाबों पे भी ऐतबार करने को डर लगता है।��

    Read More

    ख़्वाब तो ख़्वाब है,ख्वाबों का यकीं करू क्यों?
    आंख खुलते ही चले जायेंगे जाने वाले।
    ©_mohit_m_k_