• raginimaurya_ 6w

    माँ

    एक एेसा छोटा और सरल शब्द,
    जो समेटे हुए है स्वयं में ही वो समस्त संवेदना,
    जिसके होने मात्र से ही संसार मानो जीवंत हो गया हो.
    सुख और सुखद जीवन की परिकल्पना,बिना माँ के केवल एक सपना है..
    जीवन के प्रतिबिंब को एक समुचित आकार देना केवल माँ जानती है..
    वो जननी है,हमारी और हमारे सुखों की..!
    और एेसी साकार कल्पना को सहृदय नमन!!
    ©raginimaurya_