• urmilawrites 15w

    पिंजरे की पंछी हूँ, मेरी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया ,
    सपनें चूर हो गए,
    ख़ुद आज़ाद रहकर एक पंछी को कैद किया।
    गुनाह किया उन कैदियों ने जो जेल गए ,
    परंतु मैंने क्या गुनाह किया पंछी बनकर ।
    ©urmilasharma08