• bulbul 2w

    Likhna

    मैं वो नहीं लिखती जो सबको पसंद है,
    होता है वो आज़ाद जो मुझमे बन्द है!!
    ©bulbul