• bhavya10 5w

    फिक्र तो उनकी हम आज भी किया करते हैं
    फर्क सिर्फ इतना है
    अब बोलने का हक नहीं रहा

    -Bhavya Chhabra