• badnaam_shayar 23w

    चूक

    पढ़ना चाहो ग़र तो ,ये दिल वो पुस्तक हो जाएगी।
    समझ लिया मुझे तो तुझे ,मेरी हसरत हो जाएगी।
    नफ़रत ही करनी है मुझसे, तो इरादे मजबूत रखना!
    ज़रा से भी चूके ग़र तो,,तुझे मुहोब्बत हो जाएगी।

    ©badnaam_shayar