• vineesharma 5w

    By unknown writer
    Jisne bhi likha bahut khub likha...

    Read More

    हकीकत से मुंतसिब मुद्दतों से हूँ यारां
    पर जेह़न को वो तस्वीर भूलती ही नहीं....