• gaurii 16w

    उसे भी मोहहोबत हो चुकी है
    मुझसे नही, किसी और से हो चुकी है।

    शायद अब वो मेरे जज़्बात समझ पाए
    शायद अब वो हर वजह समझ पाए,
    शायद अब वो मेरी बेक़रारी समझ पाए,

    क्योकि, उसे भी तो मोहोब्बत हो चुकी है।

    शायद अब वो दर्द-ए-तग़ाफ़ुल समझ पाए,
    शायद अब वो ज़ौक़-ए-सुखन समझ पाए
    शायद अब वो मेरा फ़ितूर समझ पाए।

    क्योकि उसे भी तो अब मोहोब्बत हो चुकी है।

    पर क्या वो दोनों की मोहहोबत में फर्क करेगी?
    ख़ैर, वो बेशक़ फ़र्क़ करेगी,
    क्योकि अब उसे भी तो मोहहोबत हो चुकी है
    अब तो वो अपनी मोहोब्बत में अंधी हो चुकी है।
    ©gaurii