_darkclaw_

Chunta hu inhe,Pirota hu inhe; Bade chav se!!! Akshar par utarta hu inhe;

Grid View
List View
  • _darkclaw_ 2d

    किसी की जिंदगी में
    बोज़ बनने से अच्छा है
    याद बन जाओ।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 1w

    कहना नहीं;
    अब सहना सीख लिया है।
    समय के साथ;
    अब बहना सीख लिया है।
    ज़रुरत नहीं समझता,
    क्योंकि!!
    हर हालात में;
    अब अकेले रहना सीख लिया है।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 2w

    कुछ लोग आसमान कि तरह होते है
    हर पहर रंग बदलते है
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 4w

    हर झगड़े पे
    में छोड़ के गया,
    वो मनाने को हैं आया;

    बिना गुस्सा किए
    खुद को संभाल के,
    उसने मुझको है समझाया;

    हर बार
    हाथ पकड़ कर,
    अपने संग मुझको वापिस है लाया;

    उसने पूरी
    शिद्दत से,
    हर फ़र्ज़ को है निभाया;

    हाय रब्बा
    तूने ये किस,
    मोती से मुझे हैं मिलवाया:

    आख़िर किस पहर में
    इसने मेरे दिल में,
    अपना आशियाना है बनाया।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 4w

    वो उस दिन!
    सोलह श्रृंगार करके आएगी;

    फिर भी अधूरी लगेगी,

    श्रृंगार तो तब पूरा होगा!
    जब मेरे हाथ पे रखा हुआ सिंदूर
    उसकी मांग भरेगा।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 5w

    रब्बा मैंने ये क्या कर दिया;
    अंजाने में मैंने ये कैसा जुल्म कर दिया;
    खुशियां देनी थी उसे
    पर,
    मैंने उसकी झोली को दुखों से क्यों भर दिया।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 5w

    एक ही जिंदगी है
    जी भर के जी लो।

    बाद में मूड के देखोगे तो
    यादें रह जाएंगी
    क्योंकि
    वक़्त और लोग दोनों बदल गए होंगे।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 5w

    वो जाते जाते,
    मेरे सुकून को अपने संग ले गयी।

    अब तक तो बहुत खुश था,
    पर उसके चले जाने से मेरी हंसी चली गयी।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 5w

    वो ख्याल रखते रखते
    कब हमारे भविष्य की सज्जा बन गए
    हमें खबर ही नहीं पड़ी।।
    ©_darkclaw_

  • _darkclaw_ 5w

    जिंदगी भी कित्ता कुछ करवाती है
    कल को गिराया ;
    आज उठाया ;
    कल को हंसाएगी ;
    परसू को देखना ये रुलाएगी।।
    ©_darkclaw_