Grid View
List View
  • _pal_quotes 1d

    हम छोटी छोटी बातो पे रिश्ते नही तोडते किसीसे ,
    जब भी तोडते है कारण बडे होते है ।
    अब दुनिया के बदलते रंग देखो सहाब...
    रिश्तो मे फर्क करनेवाले लोग ,
    हमे रिश्ते निभानेका सलीका सिखाते है ।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 1w

    उसने मुझे बडे गुरुर के साथ कहा ,
    "मुझे तुम तो अच्छी लगती हो पर,
    तुम्हारे माँ-बाप पसंद नही ।"
    मैने मुस्कुराकर कहा ,
    "कोई बात नही । क्युंकी ,
    उन्हे पसंद करनेकी तेरी भी हैसीयत नही ।"
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 1w

    ये कलयुग है सहाब ,
    यहा कौन अपनी असली औकात कुबुल करता है ।
    शौहरत किसी और की ,
    और गुरुर कोई और करता है ।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 1w

    "इमानदारी" और "अपने जुबान का पक्का होना"
    बोहोत मेहंगे शौक है जनाब...
    और दुनिया मे हर कोई अमिर नही होता ।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 1w

    जब भी नजरअंदाज करते है हम उसे ये सोचकर की
    सब ठीक है तो अब उसकी जरुरत नही।
    वो "कृष्ण"
    हमारी नजरो से परदा गीराकर
    असलीयत सामने लाता है।
    और बस वही है हमारे साथ हमेशा
    ये एहसास करवाता है।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 1w

    Don't Assume Anyone's Sweetness as Their Love.
    Sometime,
    U Are Just An Option for Them,
    When They Are Bored.
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 2w

    हँसता हु मै उनकी नादानीयो पे ,
    जो अपने मेहबुब के मेसेज देखकर
    खुदको खुशनसीब समझते है ।
    भरोसा नही हमे इन
    Valentine Days की मुहब्बत पर ,
    हम तो जिंदगीभर निभानेवाले प्यार पे यकीन करते है।
    वाकीफ है हम कुछ आशीको से ,
    जो हर साल नए शक्स के लिए
    Valentine मनाया करते है।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 3w

    शायद इसिलिए ये जिंदगी
    हमे इस मोड पे ले आई ,
    उस एक शक्स ने
    अपनी जुबान क्या बदली ।
    हमने जीन-जीन को ठुकराया था ,
    हर उस शक्स की तस्वीर हमे याद आई ।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 4w

    सादगी और विनम्रता के साथ
    सावला रंग और आम सा चेहरा भी सुंदर लगता है।
    खुबसुरती और परीपुर्ण होने के भ्रम मे
    अक्सर लोगो को मैने बद्तमीज होते हुए देखा है।
    ©_pal_quotes

  • _pal_quotes 4w

    पत्नी कैसी चाहीए?
    जो
    "सखी" के जैसे "हसी-मजाक" करे
    "प्रेयसी" की तरह "प्रेम" करे
    "माँ" की तरह "खयाल" रखे
    "पिता" की तरह आपके निर्णयो मे "सहयोग" करे
    "बहन" की तरह आपकी गलतीयो को "छुपाकर" उन्हे सुधारने की कोशीश करे
    "भाई" की तरह आपके चिंता मे आपसे झगडा करे।
    ©_pal_quotes