Grid View
List View
Reposts
  • ahamseshunya 9w

    #jamm

    शौक़ नहीं है मुझे जाम पीने का..
    बस इसी बहाने पानी की पूर्ति हो जाती है।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 9w

    #yadeee

    कैसे मान लूं कि ये ख़त उसी ने लिखा है
    आँसुओं से सने लब्ज़ तो नहीं है इसमें!!
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 12w

    #aaina...

    वो मुझसे मुलाकात तो करना चाहती है
    पर कैसे करे...
    मुझसे मिलने आने के पहले,
    अक्सर वो आईना देख लेती है।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 13w

    #Bewfaiii...

    लाख कोशिशें की उसने गलियां बदलने की,
    पर अनायास ही..पैर ठहर जाते,उस मोड़ पे आके।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 21w

    #ishqqq...

    हाँ सलीक़ा तो नहीं था हमें इश्क़ करने का
    पर नाटक तो न करना था तुम्हें,हमपे मरने का।
    उड़ान-ए-मुहब्बत शुरू ही की थी इस परिंदे ने
    अच्छा ही किया काम आपने..पर इसके कतरने का।।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 23w

    #Jindgiii

    मन ही नहीं करता...मयखाने से जाने का
    क्या करें... लोगों को तो सुरूर चढ़ा हैं हमें आज़माने का।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 26w

    #alwidaa...

    ट्रेन क्यों ले आयी मुझे उस खूबसूरत शहर से
    पर सही किया.. बचा लिया दिल जुड़ने के कहर से।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 26w

    #dost...

    न जाने क्यों रूठ जाता है वो मुझसे
    पर हां, रूठ के मान भी जाता है
    क्योंकि... वो यार है मेरा।
    न जाने कितनी दफ़ा बेइज्जत करता हूँ मैं उसे
    पर हां, उसके कोई असर ही नहीं होता
    क्योंकि...वो यार है मेरा।
    न जाने क्यों भिड़ जाता हूँ किसीसे
    पर हां, पता है कि वो संभाल लेगा
    क्योंकि...वो यार है मेरा।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 27w

    #मेरा अपना...

    वो मेरा ना हुआ कोई ग़म न था,
    साथ इतना निभाया वो कोई कम न था।
    कोसूंगा तो या रब तुझे ही,
    क्योंकि हमें मिलाने का तुझमें दम न था।।
    ©ahamseshunya

  • ahamseshunya 28w

    अनजान शहर मे अज़ीज़ों का पता तो चला
    ग़र होते ये...तो दिन भर भटकता क्यों भला।
    गोल गोल घुमाते रहे यूं ही अपनी बातों से,
    मग़र... ज़िन्दगी जीने का उनसे हुनर तो मिला।।
    ©ahamseshunya