angel_shy_heart

दर्द लिखो दर्द कम होगा।

Grid View
List View
Reposts
  • angel_shy_heart 7h

    रुला ले जिन्दगी तुझे जितना रुलाना है।
    मैं भी जिद्दी हूं, हर बार तुझे हंस कर दिखाऊंगी।
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 9h

    Please ��������

    Read More

    किसी से कोई उम्मीद ना करें।
    बल्कि जिस मुसीबत में आप फंसे हैं ना ???
    कोशिश करें कि कभी कोई और ऐसी मुसीबत में फंसे तो आप उसकी मदद जरूर करें।
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 9h

    ये जानकारी आप सभी लोगों के लिए।
    मैं नहीं चाहती कि जो प्रॉब्लम मैं झेल रही हूं।
    वो आप लोग झेले।
    Please read this.....
    And sabko jankari dijiye...
    हां मैं जॉब करती हूं।
    लेकिन थोड़ा अनुभव कम है, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं कि मैं
    काम नहीं करना चाहती हूं।
    अभी मेरे राज्य में ऐस्मा लागू किया गया है लॉकडाउन के बाद।
    लेकिन ऐसी प्रॉब्लम में भी आपके कर्मचारी आपका सहयोग नहीं करते हैं।
    उनको आप जितना भी भैया दीदी बोल कर बात करो सब मतलबी है।
    26 km दूर जाती हूं ना बस चल रही है ना कुछ।

    सभी कर्मचारी घर से बैठ कर काम कर रहे हैं। लेकिन मेरे सहयोगी मुझे रिपोर्ट तक ला के नहीं देते। ये है बहुत बड़ी मुश्किल।
    जब वक्त बुरा होता है ना तो कोई साथ नहीं देता।
    ����������������������

    किसी से कोई उम्मीद ना करें। बल्कि जिस मुसीबत में आप फसे हैं ना
    कोशिश करें कि कभी कोई ओर ऐसी मुसीबत में फंसे तो आप उसकी मदद जरूर करें।
    धन्यवाद।।।।

    Read More

    .

  • angel_shy_heart 10h

    कितना अजीब है ना....
    गलती सभी करते हैं लेकिन
    सिर्फ मेरी गलती दिखाई देती है।
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 2d

    कुछ बातें ऐसी हैं जिन्हें मैं भूल नहीं सकती।
    और मुश्किल ये है कि मैं चाह कर भी तेरी हो नहीं सकती।
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 3d

    आता नहीं मुझे बातें बनाना।
    झूठ को सच और सच को झूठ बनाना।
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 3d

    एके बात आपलोगों को शेयर करना चाहती हूं।
    बताना कि मैंने गलत किया था या सही???
    #real #story #my #life ����������

    Read More

    कहानी

    ऑफिस में , मैं बैठी थी और यूहीं एक लेटर तैयार कर रही थी।

    अचानक मैंने सर लोगों को बात करते हुए पाया कि -
    औरतों का दिमाग घुटना में रहता है।


    "भगवान कसम मुझे इतना गुस्सा आया ना कि मैं क्या बोलूं"!!

    मैं वहां चुप नहीं रह पाई और बोल दिया मैंने भी - आपकी मां ने इसलिए जन्म दिया है ना कि ताकि आपलोग अपनी मां को यही बोले कि । मां तुम्हारा दिमाग घुटना में है।
    आपकी मां भी तो एक औरत है ना।

    वहां मैं अकेली थी ऑफिस में और बाकी सब सर लोग थे।
    अकेली लड़ ली सब से.....
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 4d

    समुद्र की गहराई से गहरा दर्द मेरा।
    एक लोटा दर्द डाल दो या एक लोटा दर्द निकाल दो।
    इसे कोई फर्क नही पड़ता।
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 4d

    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??
    जिसके मोहब्बत ने ही उसे धोखा दिया हो।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    जिसके मोहब्बत ने उसे फंसा कर रखा था और प्यार किसी ओर से करता था।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    उसने अपने मोहब्बत के लिए अपने आप को कुर्बान कर दिया फिर भी वो बेवफा कहलाई।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    उसकी मोहब्बत किसी ओर की मोहब्बत है।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    उसकी मोहब्बत ने किसी ओर से शादी कर लिया।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    उसकी मोहब्बत ने उसे गाली दी और रक्खेल बना के रखने की बात की।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    एक छोटी सी गलत फहमी की वजह से दूर हो गया उसका मोहब्बत।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    जब बहुत मुश्किल से किसी पर दुबारा भरोसा किया कि हां ये जिन्दगी भर मेरा साथ देगा, कभी धोखा नहीं देगा।
    लेकिन उसके परिवार वालों ने किसी ओर से सगाई करा दिया।
    बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    बोलो ना....
    क्या हुआ... बोलो ना....
    कैसे लिखेगी वो मोहब्बत??✍️✍️
    ©angel_shy_heart

  • angel_shy_heart 4d

    लोगों को फर्क नहीं पड़ता कि,
    तुम्हारा आशियाना टूट जाए या बिखर ही क्यों न जाए।
    वो तो अपने बनाए सपनों के आशियाने में बहुत खुश रहते हैं।
    ©angel_shy_heart