ankita79moonlight

��Poison�� I'm on a Break ( From writing )

Grid View
List View
Reposts
  • ankita79moonlight 8w

    सिफ़र - शून्य
    दहर - दुनिया

    ������������������������
    "मेरी मोहब्बत की बस इतनी सी हद रही है।
    हर पल हर घड़ी सिर्फ तेरे लिए बेहद रही है।।
    ������������������������

    Note :- Ye post ek ldke ke behalf me likha hua h...jiski Zindagi me Mohabbat, bhrosa , ar wafa ye sb to h ....pr phir bhi caste system ke wjh se uska ishq adhura rh gya ......��

    " दे कर समाज यहां जाति और धर्म का सरोकार।
    यूं ही कर देते हैं प्यार करने वाले रुहों को दरकिनार।।"

    Read More



    मेरी मोहब्बत के हिस्से की खुशियां,हमेशा से सिफ़र रही है।
    मेरे लिए मेरी सुबह-शाम वो,और वो ही मेरी दहर रही है।।

    दुआओं में अपनी,मांगा करता था मैं,जिस‌ एक शख्स को।
    वह,मेरी मोहब्बत,आज किसी और के लिए,संवर रही है।।

    वह बेवफ़ा नहीं है बिल्कुल , बस कुछ मजबूरी है उसकी।
    उसकी वफ़ा तो मेरे लिए ,रोज़, हर घड़ी,हर पहर रही है।।

    वह महफ़िल , जहां पर आज आई,खुशियों की बारात है।
    उसकी जिंदगी की ख्वाहिशों पर आज वो कहर रही है।।

    रिश्ते'दार खा रहे हैं महफ़िल में , शादी के लड्डू मजे से।
    उसकी मनपसंद रसमलाई भी उसके लिए जहर रही है।।

    हम साथ बैठ के करते थे जहां बात साथ वक्त बिताने के।
    वह जगह उसके लिए अब कोई पीछे छूटी शहर रही है।।

    जो हिला के गया आज हमारे इश्क की बुनियादी जड़ों को।
    सोचो कितनी पवित्र उस पिता के बाग की वो शजर रही है।।
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 9w

    दोनों पंक्तियों के अर्थ एक दूसरे से भिन्न हैं ,��
    किंतु दोनों ही चिंतनीय विषय है....��
    कहीं पर इंसानों के अंदर का बचपना मर गया है,☹️
    तो कहीं पर इंसानों के अंदर इंसानियत ही खत्म हो चुकी है।��
    इंसान अब बेजुबानों से वफा की उम्मीद करने लगे हैं क्योंकि शायद इंसानों में अब वफा नहीं रह गई है।��

    Read More



    जिम्मेदारियों के जिंदा शहर में, बचपने को मरते देखा है।
    इंसानों के इस दौर में मैंने, बेजुबानों को वफ़ा करते देखा है।।
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 10w

    ^_^������

    Read More



    जब कोई भी पीड़ा मन को सताए।
    तू भी जप ले बंदे ॐ नमः शिवाय।।
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 10w

    ��बचपन��

    Read More



    सांसें तब भी‌ चलती थी पर दिल पर किसी का नाम नहीं था।
    वो उम्र कुछ और थी जब तकलीफों का पैगाम नहीं था।।
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 11w

    #शिव_शिव��

    Read More



    मन में है शांति, और दिल में बड़ा शोर है!
    खुश हूँ बहुत, इस बात से कि,
    महादेव के हाथ में मेरी जिंदगी की डोर है!!
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 12w

    @rani_shri ��������

    #Dil_ka_rishta_bdda_hi_pyara_h ��
    #Is_pyar_ko_kya_nam_dun ����
    #Busy_people����
    #Aur_bhi_bahut_kuch����

    Read More



    वो जो एक रिश्ता तेरे साथ है ना।
    वो किसी और के साथ नहीं।।
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 13w

    #self_love
    Jo mujhse hota nii \(〇_o)/
    (●__●)

    Read More

    Make yourself,
    Your first priority.
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 14w

    Ek shayri se inspired ��
    #Love_love����

    Read More



    करीब आकर वो,
    मेरे पास हो जाता है!
    बिछड़ कर वो मुझसे,
    उदास हो जाता है!!

    हवस को रखता है,
    वो मेरे इश्क से कोसों दूर!
    मैं जब जिस्म होती हूँ,
    वो मेरा लिबास हो जाता है!!
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 15w

    ��

    Read More



    कल रात तो तकिये ने भी मुझसे हंसते हुए कहा,
    तेरे तो आंसू भी खुद के लिए नहीं हैं,
    और तू किसी और को अपना कहने की हिम्मत करता है।
    ©ankita79moonlight

  • ankita79moonlight 15w

    #lame #Amoonlight

    Sometimes we are going through a very worst situation��.....where we don't want anyone �� but on the other hand we need little pamper too.��
    Where we messed all the things ,relations nd works too�� but we want solve everything.��
    Bs usi pr likha h����

    Read More



    मेरी खामोशी को तुम तोड़ो मत,
    पर मुझे तन्हा भी तो छोड़ो मत।
    बिखर गयी जो तो समेटना नहीं,
    पर दिल भी मेरा तुम तोड़ो मत।।
    ©ankita79moonlight