anxious_soul

instagram.com/rohitdarshan01

शोर बहुत है शीने में!

Grid View
List View
Reposts
  • anxious_soul 2w



    खाली राते,भरी आँखे!
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 8w

    क्या किया जाए?

    इस जद्दोजहद में क्या किया जाए?
    जिया जाए या कही बैठ,पिया जाए?

    इतनी बेताबी का क्या किया जाए?
    तड़प लिया जाए या कही बैठ,पिया जाए?

    इन खूबसूरत शामो को कैसे जिया जाए?
    वादियों में खो लिया जाए या थोड़ा और पिया जाए?

    इन तारो से भरी आसमां का क्या किया जाए?
    आज गिन लिया जाए या थोड़ा और पिया जाए?

    समुदर की उफ़नती लहरों का क्या किया जाए?
    डूब लिया जाए या थोड़ा और पिया जाए?

    इस रिमझिम बरसात का क्या किया जाए?
    भीग लिया जाए या थोड़ा और पिया जाए?
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 8w



    वो कहती थी,मुझे मुझ से ज्यादा जानती थी वो;
    बस सवाल इस बात का रहा,
    क्या खुद को भी पहचानती थी वो?
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 16w

    आजकल!

    शायरों की बढ़ती तादाद बता रही,
    लोग टूटने लगे काफ़ी आजकल!!
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 17w

    वक़्त है!

    उसने रूठना सीखा कर;
    मनाना छोड़ दिया!
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 17w

    ?

    बेचैन;
    बस इस बात से है,
    कि उसे चैन किस बात से है?
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 22w

    फितरत!!

    तब तक ही किया गुनाह मैंने;
    जबतक भरोसा था,
    बख्श देना उसकी फितरत थी!
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 22w

    हीर

    साँस एक बारी लेकर याद दो बारी करता हूँ,
    और वो कहती है;
    मुझे किसी और हीर की तलाश है!
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 25w

    खूबसूरत था!

    यक़ीनन तू मेरी मंज़िल तो नही,
    पर सफ़र का हर वो लम्हा जो;
    तेरे साथ चला,बहुत ही खूबसूरत था!
    ©anxious_soul

  • anxious_soul 26w



    इसलिए भी नही लिखता मैं,
    की वो अब जज्बातों को छोड़;
    अल्फाज़ों में उलझ जाती है!
    ©anxious_soul