Grid View
List View
Reposts
  • archanatiwari_tanuja 11h

    बिना प्यार के

    माना कि बिना प्यार के इक दिन गुज़ारना मुश्क़िल है,
    पर हर किसी के मुक़द्दर मे ये इश़्क कहाँ हासिल है।
    वाक़िफ़ ना था मासूम दिल मिरा इश़्क के अंज़ाम से,
    इक़ नज़र मे जो लुभा गया क्या वहीं मुस्तक़बिल है।।

    दस्तक दे गया है हौले से कोई दिल की दहलीज़ पर,
    मिरी हर इक़ बात मे अब तो ज़िक्र उसका शामिल है।
    ग़ुम होती जा रही हूँ उसके ख़्वाबों-ख़यालों मे जैसे,
    ऐ मिरे खुदा तू ही ज़रा बता!क्या वो मिरे क़ाबिल है।।

    उसके आने से मिरी ज़िंदगी गुलज़ार सी होने लगी,
    लगता है के उससे ही मिरी दुनिया अब कामिल है।
    जाने कब से भटक रही थी निगाहें तिरी तलाश मे,
    तू क्या मिला मुझे! मिल गई जैसे राह-ए-मंज़िल है।।

    बस तुझे चाहते रहना ही नसीब मे है मिरे अजीज़,
    अंजाने मे जो जुड़ गया तुझसे इज़्तिराब-ए-दिल है।
    रौनक़ -ए- दिखती नहीं है कही भी तिरे बग़ैर,
    इक़ तू क्या गया चली गई रौनक़-ए-महफ़िल है।।

    जिए जा रहे है हम ग़मज़दा बोझिल सी ये ज़िन्दगी,
    तुझसे जुदा हो के अब जहाँ मिरा कहाँ मुक़म्मल है।
    ज़िम्मेवारियों के बोझ तले दबा दिया तिरी चाहत को,
    कैसे बताए हम किसी को के कैसा हाल-ए-दिल है?

    पर हाँ माँ मिरी सब समझती है दिल-ए-जज़्बात मिरे,
    वो तो मिरे हर इक़ एहसास हर लम्हें मे शामिल है।
    माना कि बिना प्यार के इक़ दिन गुज़ारना मुश़्किल है,
    पर हर किसी के मुक़द्दर मे ये इश़्क कहाँ हासिल है।।

    ©archanatiwari_tanuja

  • archanatiwari_tanuja 3d

    #hindikavysangam#hindiwritwrs#writetstolli
    #mirakeewords

    14/02/2020. 02:20PM

    पुलवामा हमले मे शहीद हुए सभी वीर शहीदों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित करती हूँ..... शत शत नमन������������������������������������������������

    Read More

    श्रद्धांजलि

    नैनो मे अश्रु की धार लिए श्रद्धांजलि तुमको देती हूँ,
    असंख्य नमन तुम्हारे शौर्य और साहस को करती हूँ।

    बलिदान हो गए तुम देश की रक्षा की खातिर,
    कोटि-कोटि शब्दों से तेरा आभार प्रकट मैं करती हूँ।

    छल-कपट का जाल बिछाया था जो देश द्रोहियों ने,
    उसकी बलिवेदी पर तुम कुर्बान हुए ये मैं मानती हूँ।

    शहादत को तुम्हारी हम भूल जाए ये मुम्किन तो नहीं,
    जीवन की हर धड़कन मे शहीदो !!स्थान तुम्हें देती हूँ।

    अमर रहेगा युगो-युगो तक तेरा देशप्रेम और बलिदान,
    प्रेरणा का श्रोत बने रहो सदा यही प्रार्थना मैं करती हूँ।

    है नाज़ हमें तेरी शहादत पर तू देश का सच्चा सपूत है,
    श्रद्धा और समर्पण का सुंदर पुष्प तुम्हेअर्पित करती हूँ।
    ©archanatiwari_tanuja

  • archanatiwari_tanuja 5d

    क्या तुम्हें __?

    सच कहो क्या तुम्हें मुझसे अब भी प्यार है ??
    मिरे लौट आने का क्या तुम्हें अब भी इंतज़ार है?
    हो गए थे जाने कितने लम्बे फ़ासले इश्क़ मे,
    जो दरमियाँन थी हमारे क्या भर चुकी वो द़रार है?

    ख़्वाबों - ख़यालों मे होता है मिरा आना-जाना,
    मिरी खातिर तिरा दिल क्या अब भी तलबग़ार है?
    कमी मिरी खलती तो होगी तुम्हें कभी ना कभी,
    मिरे ज़िक्र से तिरा दिल क्या धड़कता बार-बार है?

    राहें ज़िंदगी मे मिले होगे तुम्हें कितने ही मुसाफ़िर,
    तुम्ही कहो !! क्या अब भी तुम्हें मिरी दरक़ार है?
    घुटन भरी चाहत से हो गए तुम तो सनम आज़ाद,
    मुझे बताओ ज़रा! क्या आई मौसम-ए-बहार है?

    सूना-सूना खाली-खाली लगता मुझको मिरा घर,
    कैसे कहे हम क्या येदिल मिरा बरसो से बीमार है?
    बहुत हो चुके है शिक़वे-गिले हमारे दरमियाँन,
    तुम ही कहो क्या तुम्हें अब भी मुझपे एतबार है?

    खिल उठता था ख़ियाबा मिरे दिल का तिरेआने से,
    साथ होना हमारा क्या अब दो धारी तलवार है?
    जुदा हुए हमें बहुत अरसा गुज़र गया है साहिब मिरे,
    मिरि खातिर क्या अब भी बची चाहत बे-शुमार है?

    गलतफ़हमियों को हमने ही जगह दी बिला वज़ह,
    बताओ ना!क्या अब भी खिची वो फ़रेबी दीवार है?
    आसान नहीं है अब मिलना हमारा! फिर भी कहो!
    मिरी चाहत के सदके मे क्या अब भी जाँनिसार है?

    थोड़ी सी जगह बनाए रखना अपने दिल के कौने मे,
    फिर से कहो!क्या दिल तिरा मिरी खातिर बेक़रार है?
    सच कहो ना!! क्या तुम्हें मुझसे अब भी प्यार है ??
    मिरे लौट आने का क्या तुम्हें अभी भी इंतज़ार हैं??

    ©archanatiwari_tanuja

  • archanatiwari_tanuja 1w

    #meme53_wt#writerstolli#miraki#hindikavysangam
    #hindiwriters#tod_wt#pod_wt

    08/02/2020. 10:57AM

    क्या तुम्हें याद है.....???
    *********************

    मेरे इक़रार की खातिर ढ़ेरों प्रेम पत्र मुझे लिखना
    अपनी चाहत को बयां करना क्या तुम्हें याद है??

    इज़हार-ए-मोहब्बत करते वक़्त कभी तुमने !!
    दिया था मुझे लाल गुलाब क्या तुम्हें याद है??

    वक़्त-बे-वक़्त तेरा मिरे घर के चक्कर लगाना,
    राह मे मिरी पलकें बिछाना क्या तम्हें याद है??

    बेताब धड़कनों का संदेशा खत मे लिख भेजना,
    घड़ी-घड़ी जवाब का इंतज़ार क्या तुम्हें याद है?

    भिगो के अश़्को से जब ख़त मे दिया था जवाब,
    पहला था पैगाम मिरा तुम्हारे नाम क्या तुम्हें याद है?

    हम-तुम बदल गए, बदल गए ज़ज्बात फिर भी,
    राहे खड़ी है हमारे इंतज़ार मे क्या तुम्हें याद है ??

    हमारे इश़्क के अफ़्साने आज भी है उन ख़तो मे,
    उनकी लाल स्याही की तकरीर क्या तुम्हें याद है??

    मेरे इक़रार की ख़ातिर ढ़ेरों प्रेमपत्र मुझे लिखना,
    अपनी चाहत को बयां करना क्या तुम्हें याद है??

    @archanatiwari_tanuja

    Read More

    क्या तुम्हें याद है....???
    *********************
    मेरे इक़रार की खातिर ढ़ेरों प्रेम पत्र मुझे लिखना
    अपनी चाहत को बयां करना क्या तुम्हें याद है?

    इज़हार-ए-इश़्क करते वक़्त कभी तुमने !!
    दिया था मुझे लाल गुलाब क्या तुम्हें याद है?

    वक़्त-बे-वक़्त तेरा मेरे घर के चक्कर लगाना,
    राह मे मेरी पलकें बिछाना क्या तुम्हें याद है??

    ©archanatiwari_tanuja

  • archanatiwari_tanuja 1w

    ऋतुराज बसंत

    मेरे मन का आंगन है हर्षाया,
    ऋतुराज बसंत द्वार है आया।
    स्वागत करते हम बसंत तुम्हारा,
    सुख-सौभाग्य अपने संग लाया।।

    खिल उठी धूप मखमली सी
    मौसम सुहाना सा हो गया है,
    हरियाली की चादर ओढ़े हुए
    धरती कर रही पुष्पों से श्रृंगार।।

    खेतो मे लहराते सरसों के फूल
    बसंती आवरण लिए है वसुंधरा,
    आम की मंझरियो से उठ रही है
    मादक,मोहक,आकर्षक सुगंध है।।

    मस्त हो चलने लगी धीमी बयार
    ओस की बूंदें भी कम होने लगी,
    गेहूँ की बालियां निकलने लगी
    अब सर्द हवाएं थमने सी लगी।।

    किसानों मे उल्लास उमड़ रहा
    आशाओं का सूर्य उदय हो रहा,
    कितनी ही उम्मीदो भरी निगाहें
    मधुमास बसंत की बाट जोहती।।

    प्रकृति हुई है मेहरबान हमपर
    लहराती फसलों के संग - संग
    खट्टे-मीठे , रस-भरे फलों का
    आगमन बसंत के संग हो रहा।।

    मेरे मन का आंगन है हर्षाया
    ऋतुराज बसंत द्वार है आया।।

    ©archanatiwari_tanuja

  • archanatiwari_tanuja 1w

    .

  • archanatiwari_tanuja 2w

    03/02/2020. 01:30PM

    #hindikavysangam#hindiwriters#mirakee

    इसी के साथ आज 600 पोष्ट पूरी हो गई ।आप सभी के साथ और सहयोग की मै हृदय से आभारी हूँ ...बहुत बहुत शुक्रिया आप सभी का.....����������������������❤️

    Read More

    .

  • archanatiwari_tanuja 2w

    .

  • archanatiwari_tanuja 2w

    .

  • archanatiwari_tanuja 2w

    30/01/2020. 09:05PM

    बसंत पंचमी के पावन पर्व की आप सभी को बहुत बहुत शुभकामनाएं........��������������

    Read More

    .