b______

you are my srea_________

Grid View
List View
Reposts
  • b______ 1d



    मुफत के चीज घर पर रहता नहीं
    पराया धन अपना कभी होता नहीं
    दूसरों की प्यार अपने दिल में सजते नहीं,

    अगर दिल में साझा भी लो
    तो वह प्यार ज्यादा दिन रहते नहीं
    क्योंकि किसी का दिल तोड़ने वाले व्यक्ति
    किसी एक का दिल में कभी रह सकता नहीं।।

    ©b______

  • b______ 4d



    हमने कुछ दोस्त को दोस्ती का और हाथ बढ़ाते हुए देखा सोचा चलो हम भी एक हाथ दोस्ती का और बड़ा ता

    पर हमें क्या पता था किसी से
    हाथ मिलाने से दिल में हजारों चोट पहुंचता
    चोट लगने पर दिल टूट ही क्यों ना जाए हमेशा चुप रहने पड़ता।।

    ©b______

  • b______ 4d



    किसी को आप कुछ सवाल पूछो और ओ उसका जवाब ना दे

    तो समझ लो आपकी बातों का उसकी नजर में कोई कदर नहीं है।

    उस जगह सवाल पूछने से बेहतर आपको चुप रहना ही अच्छा है।

    ©b______

  • b______ 4d

    ������
    अकड़ के रहना दोस्ती में शोभा नहीं देते हैं
    हर बात मैं मुझे ही अफसोस होते हैं
    हर बात में मुझे ही दर्द सहने पड़ते हैं
    हर बार हमें ही सॉरी बोल कर तुम्हें मनाने पड़ते हैं
    क्योंकि हम तुम्हें किसी भी हाल में खोना नहीं चाहते हैं
    क्योंकि हम अपने पवित्र रिश्ता पर कोई दाग लगाना नहीं चाहते हैं..
    ������

    Read More

    ©b______

  • b______ 5d

    फैला दो आवाज चारों दिशाओं में दिखा दो अपनी जलवे यह पूरी दुनिया में गाना है तो दिल से गांव याद रखेगी लोग तुम्हें आने वाली जमाना में...����������

    Read More

    ©b______

  • b______ 5d

    जब आंखों की नींद चली जाए तब कुछ सॉन्ग गा लेना ही अच्छा है
    वरना इंसान के खाली दिमाग शैतान की घर होते हैं...��������

    Read More



    ©b______

  • b______ 1w

    114 years Bank of India
    Foundation Day..������

    Read More

    ©b______

  • b______ 1w

    ©b______

  • b______ 2w



    हर नजर के पीछे एक
    खूबसूरत तस्वीर छुपे होती है
    हर दिल की धड़कन में एक धड़कन छुपे होती है,
    हर यादों के पीछे एक खूबसूरत याद छुपे होती है,

    हर बातों का पीछे एक खूबसूरत शब्द छुपे होती है,
    कौन सी ऐसा शब्द है जो समझने के लिए सारी उम्र गुजर जाती हैं।।

    ©b______

  • b______ 2w



    दोस्ताना इतना बरकरार रखो कि भेदभाव बीच में ना आए कभी,

    तुम उसे मंजिल तक छोड़ दो वो तुम्हें मस्जिद छोड़ आए कभी,

    जय गणपति बाबा जय मंगलमूर्ति।।।

    ©b______