be_harsh

Instagram.com/hrsh__raj

Ink boiled , When I wrote ur name!

Grid View
List View
Reposts
  • be_harsh 3w

    अल्फ़ाज़

    इक आस है कुछ खास है,
    थोड़े ज़ज्बात है कुछ एहसास है!
    जो कह ना पाया,
    बस वही अल्फ़ाज़ है!!
    ©be_harsh

  • be_harsh 4w

    ख़्वाहिश

    मेरे हर इक ख़्वाहिश के गवाह है वो टूटते तारे;
    चाहो तो पूछ लो!
    ©be_harsh

  • be_harsh 4w

    अँधेरा

    इस जद्दोजहद में थोडा बिखर गया
    अँधेरा था तो थोडा ठहर गया!
    ©be_harsh

  • be_harsh 5w



    सुलझा सा हु मैं तेरी ज़ेहन में
    उलझा सा मुझमें इक शख्स भी है।।
    ©be_harsh

  • be_harsh 5w

    इश्क़

    चलो इक दफ़ा और इश्क़ फरमाते है;

    यूहीं तुम इठलाओ और हम बलखाते है,
    पुराने हसी-मजाक फिर से दोहराते है,

    चलो इक दफ़ा और इश्क़ फरमाते है;

    इक-दूजे के होने का एहसास जताते है,
    तुम युहीं शर्माओ और हम नज़रें मिलाते है,

    चलो इक दफ़ा और इश्क़ फरमाते है;

    वो छोटी-छोटी बातों पर सारी रात मुस्कुराते है,
    होते ही सुबह इक-दूजे को जगाते है,

    चलो इक दफ़ा और इश्क़ फरमाते है;

    हसी-मज़ाक में ही एक-दूजे से रुठ जाते है,
    शाम होते ही वापस से मनाते है,

    चलो इक दफ़ा और इश्क़ फरमाते है;

    गर जो बिगडी बात,
    इस दफ़ा फिर गलत हालात को ही बताते है!

    चलो इक आखिरी दफ़ा इश्क़ फ़रमाते है।।
    ©be_harsh

  • be_harsh 6w

    @anxious_soul @priyakhemnani

    रफ़ा(दूर किया हुआ)
    फ़क़त(केवल)

    Read More

    खफ़ा हु खुदसे!

    खफ़ा हु खुदसे;
    मन में हज़ारो सवाल है
    ज़िन्दगी कुछ बेहाल है
    यही दशा फिलहाल है!
    खफ़ा हु खुदसे;
    ठहरा सा ये वक्त है
    ज़िन्दगी कुछ शख्त है
    यही इल्ज़ाम फ़क़त है!
    खफ़ा हु खुदसे;
    हर मोड पर दिलासा है
    ज़िन्दगी कुछ तमाशा है
    यही फैला निराशा है!
    खफ़ा हु खुदसे;
    बढ़ रहा विकार है
    ज़िन्दगी कुछ स्वीकार है
    यही शायद दरकार है!
    खफ़ा हु खुदसे;
    हालात आय ये नए है
    ज़िन्दगी कुछ मय है
    यही फिसलना तय है!
    खफ़ा हु खुदसे;
    अंधेरा इस दफ़ा है
    ज़िन्दगी कुछ खफ़ा है
    यही सवेरा रफ़ा है!
    ख़ैर खफ़ा हु खुदसे!!
    ©be_harsh

  • be_harsh 7w

    ज़माना

    किसी एक की गलती नहीं
    गलत पूरा ज़माना है
    वो खिड़की के पास ही रह कर
    लाज़मी तेरा शर्माना है!
    ©be_harsh

  • be_harsh 8w

    सबब(कारण)
    @anxious_soul @diyaparmar

    Read More

    खैर जाने दो!

    एक नया सवेरा
    वही पुराना अँधेरा!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया परिंदा
    वही पुराना दरिंदा!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया तलब
    वही पुराना सबब!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया केस
    वही पुराना कलेश!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया खेद
    वही पुराना मतभेद!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया आस
    वही पुराना खटास!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया टुकड़ा
    वही पुराना मुखड़ा!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया दरकार
    वही पुराना विचार!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया लिबास
    वही पुराना अल्फ़ाज़!
    कह दू या खैर जाने दो;
    एक नया सवेरा
    वही पुराना अंधेरा!
    कह दू या खैर जाने दो।।
    ©be_harsh

  • be_harsh 8w

    इश्क़!

    आरज़ू तेरी ;
    जुस्तजू तेरी इश्क़ की।
    मुंतज़िर मैं ;
    बदस्तूर मेरा इश्क़!
    ©be_harsh

  • be_harsh 10w

    रक़ीब

    ख़ैर वो तो रक़ीब था;
    फिर आप क्यों शरीक थे!
    ©be_harsh