dinesh_bhardwaj

instagram.com/ek_khuwab

Co-Author #letters to self , story writer, quotes and poem lover, mirakee reader mention me #dks

Grid View
List View
Reposts
  • dinesh_bhardwaj 18h

    प्यार ना जानें क्या क्या करवा देता है सही मायनें में कहें तो प्यार जीना सिखा देता है आपकी dressing sence से लेकर आपकी living स्टाइल सब निखर जाती है। ये प्यार ही तो है जिसके एक बार कहने पर आप शेविंग करना सिख लेते हो, बाजुओं के कप के बटन बंद करना सीख जाते हो, अपनी गंदी आदतें छोड़ कर कुछ अच्छा अपनाते हो...
    #2k19 #teri_hasi_si_hasi_nahi_dekhi #mirakee #mirakeewriters

    Read More

    चेहरे बहुत देखे ज़माने में मगर तेरे चेहरे सा नूर नहीं देखा
    हँसी बहुत देखी जमानें में मगर तेरी हँसी सी हँसी नहीं देखी

    छितराई शाम किलस गयी तेरे गालों को देख कर
    तेरे गालों की लाली सी लाली और नहीं देखी...

    सहर को इंतज़ार है तेरे दीदार का...
    देख कर चढ़ती हो तुझे, ऐसी सहर नहीं देखी।

    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 3d

    #2k19 ���� ����

    Read More

    कहानियों के इस दौर में एक कहानी मेरी भी हुई
    हम भक्त मोहब्बत के बने वो हमारी आराधना हुई...
    दुआओं वाली अर्जियों में हमारी अर्जी को थोड़ा वक्त मिला,
    अर्जी पढ़ी गयी, गौर की गई और फिर....
    रद्दी के ढेर में डाल दी गयी....
    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 5d

    एक जिंदगी थी जो तेरे नाम कर दी
    अब मौत जी रहा हूँ...
    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 1w

    #2k19 ���� @shabir_

    Read More

    सवाल ईमानदारी का था
    गफलत का होता तो जवाब जरूर मिलता...
    हम उन्हें सांसो से सींचने लगे और उन्होंने
    उन्ही सांसो से बाहर फेंक दिया...

    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 1w

    #2k19 ����

    Read More

    खबर आयी कि ख़याल रखने वाला कोई और है उसका...
    अब
    इस बात की पुष्टि हमें उनसे चाहिए थी।

    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 1w

    कामिनी, मोहिनी, रंभा, रति, तेरे आकर्षित रूप घने
    प्रकर्ति, कीर्ति, ख़ुशबू, तुझमें अनेक रंग सजे...

    तू दयावान और धन लक्ष्मी, तुझसे अनेकों दीप जले
    हर दर्द को सह जाती फिर भी आँचल में तेरे स्नेह छुपे।

    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 1w

    सवालों के जवाब तेरे मासूम बड़े हैं
    सुन कर जिन्हें मुस्कान आ ही जाती है।

    मैं हंसता नहीं आजकल तू फिर भी हँसा जाती है
    अपनी उलझने छुपा कर उलझन मेरी सुलझाती है।

    वक़्त लिया हमनें जख्मों पर मरहम लगाने को
    तू आहिस्ते आहिस्ते हर दर्द पर मरहम लगाती है।

    तू बहन कम दादी माँ ज्यादा नजर आती है
    कभी बहन के जैसे समझाती है कभी दादी की तरह सुनाती है

    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 2w

    सुना है, मोहल्ले के भँवरे डगमगा जातें है
    गली से जब वो फूल गुजरता है...
    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 2w

    बेचैनी इतनी बढ़ी इक दफ़ा रात को,
    हमनें आईने के सामने जाकर तेरी बात करनी चाही...
    जवाब जान आईने का हैरान हो गए,कहा:-
    गर साथ तुम खड़ी होती तो आईने में बनी परछाईं मुक्कमल होती,
    कहा कि मुझे उसका अक्स दिखाने में खुशी होती, और उसे देख तेरे चेहरे की खुशी बहुत होती..

    ..DAS..

  • dinesh_bhardwaj 2w

    #2k19 #��

    Read More

    हर मुमकिन कोशिस की भूल जाऊं तुझे
    मगर
    हर कोशिश बेरहम निकली....

    ..DAS..