divya100

Dhadkan ye kehti hai....dil tere bina dhadke na....����

Grid View
List View
Reposts
  • divya100 1w

    फिर आएंगी यादें किसी की,आँसू भी जरूर आएंगे।
    आँसू को पीने के सिवा हम कुछ नही कर पाएंगे।।

    Written by ��Papa��

    Read More

    पलकों से जब निकले आंसू उन्हें मुझसे था कुछ कहना...
    कहने लगे ये छलकते आंसू,कभी निराश ना होना।
    किसी ने छोड़ा साथ तुम्हारा,मैं साथ नही छोडूंगा...
    तुम्हारे अकेले पन को मैं दूर कर दिखाऊंगा।
    जब यादें किसी की आयें,मुझे भी याद कर लेना...
    कहने लगे ये छलकते आंसू,कभी निराश ना होना।

    भूलने की चाह करोगे मगर उसे भूल नही पाओगे...
    मैं हर दम पलकों में तुम्हारी जब कहो आ जाऊंगा...

    दिल में बसी है जो तुम्हारे उसे तुम अवश्य भूल जाना...
    कहने लगे ये छलकते आंसू,कभी निराश ना होना।
    साथ छोड़ा उसने तुम्हारा,तुमने साथ नही छोड़ा..
    क्योंकि पहले वही गई है,इक दिन सबको है जाना...
    सब्र करलो तुम भी अब तो यह सब कुछ था होना।
    कहने लगे ये छलकते आंसू,कभी निराश ना होना।
    भूल जाओ तुम उसको,न तुम्हे कुछ करने देगी...
    इस जहाँ को स्वयं छोड़ नही सकते,न तुम्हे वो जीने देगी।
    अन्त में सुनले ऐ मानव हो ने दे जो है होना...
    कहने लगे ये छलकते आंसू,निराश कभी ना होना।
    फिर आएगी याद उसकी,मैं भी जरूर आऊंगा...
    किसी ने छोड़ा साथ तुम्हारा,मैं साथ नही छोडूंगा।
    पलकों से जब निकले आंसू, उन्हें मुझसे था कुछ कहना...
    कहने लगे ये छलकते आंसू, कभी निराश ना होना।

    फिर आएंगी यादें किसी की,आँसू भी जरूर आएंगे।
    आँसू को पीने के सिवा हम कुछ नही कर पाएंगे।।

  • divya100 3w

    ये वक़्त अगर ठहरता....मैं इसे एक बात जरूर समझाती.....
    अगर तू सगा होता किसी का,तो आँख तेरी भी भर आती...

    सुन..हौसला शायद तुझे भी मैं ही देती..
    मेरा बस चलता तो मैं तुझे पलट कर रख देती...

    सच ये है,तू बदल जाता है क्योंकि सच सुनने की तुझमें हिम्मत नही होती
    तू बलवान समझता है खुद को..पर लौट कर आने की तुझमें ताकत नही होती...

    तेरी जिद्द के किस्से सुने हैं,मर्जी तू बस अपनी चलाता है...
    पर भगवान सबका है,नासमझ तू ये हर बार भूल जाता है...

    तू जिस से इस बार बेवजह टकराया है,उसने अपनी किस्मत को महान हाथों से लिखवाया है...

    तू आ मैं तुझसे अब भी डरती नही...जा पूछ ले किसी गीदड़ से,उन्हें देख शेरनी मरती नही....

    ©divya100

  • divya100 3w

    एक रात में बहुत कुछ बदल जाता है...
    छिपता है चाँद तो सूरज भी ज़रूर आता है...

    यूँ तो धूप से नफरत हुआ करती थी पर...अब समझी की ज़्यादा बारिश होने से सब बह जाता है...

    पल भर में कोई अपना दूर चला जाता है पर सच कहूँ तो वो पल हमें बहुत कुछ सिखाता है

    दिल में बसने वाले साथ हमेशा रहते हैं..देखा जाए तो बस उनका रूप बदल जाता है...

    माना ये वक़्त बड़ी तेजी से बदल जाता है...पर यकीन मानो दुख के बाद खुशियों का अवसर भी ज़रूर आता है

    किस्मत के आगे कोई नही जीत पाता है...यकीन नही तो पूछो उस सोने से जो जल कर पल में राख बनजाता है....
    ©divya100

  • divya100 5w

    वो बातें जो दिल से निकल कर लबों पर ठहर जाती हैं....क्या कोई बताएगा ???

    वो ऐसे क्यों रुक जाती हैं ???

    ©divya100

  • divya100 8w

    मेरी एक उलझन है,ज़रा सुलझा देना..

    ये राज़ क्या है???मुझे हँसता देख तेरा झट से मुस्कुरा देना....

    ©divya100

  • divya100 8w

    कैसे बता दूं उसे हर दर्द अपना???

    वो दोस्त है,मेरे आंसुओ का ठेकेदार तो नही....

    ©divya100

  • divya100 11w

    पास हूँ पर सबसे बड़ी दूरी भी हूँ...
    मुझसे परहेज़ भी है पर मैं ज़रूरी भी हूँ... #love #life #thoughts #friendship #diary #poetry

    Read More

    मुझे ना चाहने वाले हर शख्स की मजबूरी सी हूँ...

    मैं अपने आप में पूरी तो हूँ पर तेरे बिना कुछ अधूरी सी हूँ...
    ©divya100

  • divya100 12w

    कोई बैर नही मेरा तेरी मोहब्बत से,मैं आज भी बहुत खुश हूँ तेरी सोहबत से�� #love #life #thoughts #diary #friendship #nature

    Read More

    तू जिसे चाहता है वो तेरी हो मैंने हर पल ये दुआ की है...

    यूँ तो उम्र बहुत लंबी है मेरी,पर जिस पल मैंने तुझे देखा...उसी पल में मैंने पूरी ज़िन्दगी जी है...

    ©divya100

  • divya100 12w

    तुमसे कभी झूठ नही बोला,कभी बोलूँ तो तुम मेरा झूठ पकड़ लेना...
    जब तुमसे नज़रें ना मिलाऊँ तुम मेरा दर्द पढ़ लेना...

    कभी कोई बात छुपाये रखूँ,दिल के किसी कोने में दबाये रखूँ...मेरे लाख मना करने पे भी पहचान लेना...
    जब तुमसे नज़रें ना मिलाऊँ तुम उसे जान लेना...

    लबों पे मुस्कान देख कर भी आँखों की नमी को समझ लेना...
    जब तुमसे नज़रें ना मिलाऊँ तुम झुकी हुई पलकों को ज़रा परख लेना...

    बिछड़ने की बातें सुनकर भी अगर हँसती रहूँ,तुम्हारी खुशी में खुश हूँ मान लेना...
    जब तुमसे नज़रें ना मिलाऊँ तुम फैले हए काजल से सब जान लेना...

    तुम्हे छोड़ कर जाने लगूँ तो कसम अपनी देकर मुझे रोक लेना...
    जब तुमसे नज़रें ना मिलाऊँ,मैं बदल गयी हूँ तुम ये सोच लेना...

    ©divya100

  • divya100 12w

    देखो तो उसकी बातों का कितना गहरा असर है...

    चाह कर भी नींद नही और दिल भी बेसबर है...

    ©divya100