#jaunfalsafa

595 posts
  • gumnam_shayar 8h

    मैं मसरूफ रखता हूँ
    खुद को अक्सर फिज़ूल के कामों में
    बचने के लिए तुम्हारी यादों से
    जो पीछे दौड़ती हैं मेरे पीछे नंगे पाँव की पकड़ ले मुझे और ले जाएँ उस पुल पर जो जोड़ती हैं मुझे तुमसे
    जहाँ तुम्हारी यादों के हुजूम घात लगाए बैठे रहते हैं ठीक उसी शिकारी की तरह जो शिकार के हर चाल को समझा बैठा है
    तुम्हारी यादे वो शिकारी हैं जो कभी खाली हाथ नहीं लौटी

    ©gumnam_shayar

  • shishu_tiwari_22 2d

    क्या करें क्या ना करें बड़े
    कशमकश में है ज़िन्दगी ,
    किससे मोहब्ब्त करें , किससे रूठ जाएं
    इत्तेलाह तो कर ए ज़िन्दगी ।
    ©shishu_tiwari_22

  • gumnam_shayar 3w

    हरी डंडी में लगा लाल महताब दूँगा उसे
    सोचा है मिलकर कई गुलाब दूँगा उसे

    उसकी आँखों से जो झांकते हैं सवाल कई
    वक्त ब वक्त मुकम्मल जवाब दूँगा उसे

    ©gumnam_shayar

  • shishu_tiwari_22 3w

    ऐसी नज़्म जिसका कोई अर्थ नहीं , बस जो मन्न में आया लिखते गए ।
    @mirakeeworld @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @panchdoot #panchdoot #jaunfalsafa

    Read More

    नज़्म

    मेरे कंधे पर रोना
    मुझे पता है कि आप वास्तव में कैसा महसूस कर रहे हैं ।
    मेरा सारा जीवन - यहाँ रहा है,
    जहाँ सर्दी कभी गर्मी हमेशा के लिए खिल जाती है,
    और सूरज और चाँद,
    इसलिए दिन रात की तरह चुप है।
    यहाँ जहाँ आँसू बिना अंत में गिरते हैं,
    और इंद्रधनुष केवल कल्पना ही हैं।
    आपका दिल सुन्न - आप खाली हैं,
    कुछ भी सही नहीं है, इसलिए सब दर्द है।
    मैं यहां रहता हूं, मैं कभी दूसरी तरफ नहीं रहा।
    लेकिन मैं जीवित हूं: सांस लेना, मुस्कुराना, प्यार करना, बढ़ना।
    आओ, मैं तुम्हें लड़ने के थोड़े रास्ते दिखाता हूं;
    मुस्कुराने के छोटे-छोटे तरीके, हंसने के छोटे-छोटे तरीके, कृतज्ञता खोजने के छोटे-छोटे तरीके, प्यार करने के छोटे-छोटे तरीके, जीने के छोटे-छोटे तरीके, मरने के छोटे-छोटे तरीके।
    मजबूत दिखने के छोटे तरीके, जीतने के छोटे तरीके सीखें।
    यहां तक ​​कि जब आपके पास लड़ने के लिए बल आपके पास नहीं है।
    पहले आओ ; मेरी पीठ पर अपना बोझ रखो,
    अपनी भारी आँखें बंद करो मेरे दोस्त, थोड़ी देर सपना देखो।
    जब आप जागोगे तो
    तुम उतना रोओगे नहीं।
    और आप एक नई किताब शुरू करोग्गे जैसे मेरे पास है ।
    ©shishu_tiwari_22

  • gumnam_shayar 3w

    किसने रोका है आशिकी सर-ए-राह करो
    मज़े पलभर के हैं और उम्रभर आह करो

    सुना रहा हूँ एक शेर जो वज़न से है ख़ारिज़
    खुद पर बीती अगर तो शायरी पर वाह करो

    ©gumnam_shayar

  • gumnam_shayar 5w

    ये रस्म-ए-दुनियां है तो निभानी पड़ती है
    ऐसे जीने में यहाँ अक्सर आसानी पड़ती है

    मैं भी तो उसकी ज़िन्दगी का एक हिस्सा हूँ
    क्यूँ रोज़ यही बात मुझको बतानी पड़ती है

    एक रास्ता जिसपर चले तो मौत वाजिब है
    बस उसी रास्ते पर मेरी ज़िन्दगानी पड़ती है

    काँटों से जो अलग किया तो फूल मुरझा बैठे
    जख़्म हरा रखना हो तो चोट खानी पड़ती है

    सीखा हमने आज के हुक़्मरानो से ये क़ायदा
    जो बुझानी हो तो पहले आग लगानी पड़ती है

    वक़्त की शदीद कमी में रिश्तों का दम निकलेगा
    किसी न किसी तरीक़े से क़ीमत चुकानी पड़ती है

    ©gumnam_shayar

  • shishu_tiwari_22 5w

    मैं सिर्फ एक दर्द हूँ
    लेकिन वह मेरी राहत है,
    मैं सिर्फ एक आहत हूं
    लेकिन वह मेरी भावना है,
    मैं बस एक सांस हूं
    लेकिन वह मेरा दिल है,
    मैं सिर्फ एक आत्मा हूं
    लेकिन वह मेरा प्यार है,
    मैं चाँद का आधा हिस्सा हूँ
    और वह मेरी काली रात है,
    मैं सतह की सूखी हवा हूँ
    और वह मेरी ठंडी बारिश है,
    मैं बेचैन जीवन हूँ
    और वह मेरी शांति है,
    मैं पूरी दुनिया हूं
    और वह मेरी सार्वभौमिक खुशी है
    ©shishu_tiwari_22

  • shishu_tiwari_22 7w

    चांद

    बड़े दिनों बाद उसके चेहरे का दीदार हुआ हैं ,
    मानो जैसे नए साल के पहले चांद का दीदार हुआ है ।
    ©shishu_tiwari_22

  • shishu_tiwari_22 8w

    यह साल २०१९ की पूर्वसंध्या है ,
    यह विश्वास करना कठिन है,
    साल २०१९ बड़ी तेज़ी के साथ चला गया,
    वर्ष कहां गए ? किसी को पता ही नहीं लगा ,
    कितनी तेजी से ये पारित हो गया ।

    हम एक दूसरे के माध्यम से मिले और जो किया गया है उसे हमने आख़िर तक याद रखा। कुछ चीजों को हमें नहीं बोलना चाहिए लेकिन उन्हें पछतावा करने में समय बर्बाद नहीं करना चाहिए , जो अब अतीत में है ।

    इससे बेहतर कोई मौका नहीं है कि आपस में मिले और इस मौके को याद करें । एक साथ मिले और उन सभी चीजों का जश्न मनाए जो महान हो गई और आश्चर्यचकित थे कि क्या हो सकता था ।

    अपने अच्छे दोस्तों और परिवार की सरहना करने और वास्तव में सरहाना करने के लिए पूरी तरह से चिंतन करने का मौका ।

    आपकी सारी परेशानी और संगर्ष आपके जीवन में अच्छी चीजों को ढूंढते है और उन पर ध्यान केन्द्रित करते है । किसी भी गलती से सीखें की दुश्मनों के दोस्त बनने के लिए क्या करना चाहिए । भगवान के बारे में बहुत अधिक सकारत्मक जीवन को कम करने के लिए माफ करने के लिए थकाऊ मत बने ।

    चाहे महिला हो या पुरुष सबसे अच्छा मन होने का प्रयास करे क्यूंकि वर्ष पूरा होने के करीब है ।

    अनलोगों के लिए जो आपके लिए प्रिए ढेरे रखते है , जिन्हें आप अपनी सारी शक्तियां समर्पित करते है । आपके पापों की अनुपस्थिति के लिए चीजों कि पुनर्वृत्ती करने का बड़ा सुनहरा मौका एक प्रारंभिक वर्ष के संकल्प को तयार करते है ।

    तय करे कि आप अगले साले से क्या भविष्य का सामना करते हैं , एक शानदार ढंग से , एक ब्रांड उत्पन्न होने वाला वर्ष धरना में है । आगे देखिए यह पता नहीं लग रहा है कि इस उत्साहित साल की पूर्वसंध्या की रात में आपके पास शक्तिशाली उन्माद है ।

    माफ कीजिएगा ! करने वाला तो ३१स्ट की शाम को था बट थोड़ा व्यस्थ हो गया ।
    HAPPY NEW YEAR ������ �� 2020

    @mirakeeworld @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @panchdoot #panchdoot #jaunfalsafa #writerstolli

    Read More

    स्वागत २०२०

    अलविदा २०१९
    स्वागत २०२०

    एक नया दशक

    जनवरी में मैंने मज़े किए ,
    फ़रवरी में थोड़ी गड़बड़ हुई ,
    मार्च में मै सपनों में था,
    अप्रैल मे मै उत्तेजित हो गया,
    मई में मै मारना चाहता था ,
    जून में मैंने भी प्रयास किया,
    जुलाई में मै ऊब गया,
    ऑगस्ट में मैंने पुराने दोस्तो की याद किया ,
    अक्टूबर में मैंने उसे चाहा,
    नवंबर में थोड़ा व्यस्थ थोड़ा मज़े किए ,
    दिसंबर आलस भरा बीता ।

    पूरी नज़्म कैप्शन में पढ़े २०२० -
    ©shishu_tiwari_22

  • shishu_tiwari_22 7w

    कांटे तो यूंही बदनाम है ,
    असली चुभन तो उनकी ज़ुबान देती है ।
    ©shishu_tiwari_22

  • gumnam_shayar 8w

    हाँ कुछ चीज़ें बेहद ज़रूरी होती है
    बिना बिन्दी के वो अधूरी होती है

    जो उसकी आँखे मतला कहती हैं
    और मेरे हाथों गज़ल पूरी होती है

    लोग अक्सर उसे नज़र लगा बैठते हैं
    यार लोगों की भी मजबूरी होती है

    फासले अब कहाँ ऐसो के दरम्यान
    दो एक बन जाएँ तो कहाँ दूरी होती है

    ©gumnam_shayar

  • shishu_tiwari_22 9w

    अगर आवाज़ हो तो खड़कते सिक्के जैसी हो ,
    वरना
    बाकियों की आवाज़ तो ढीले नोट की तरह है ही ।
    ©shishu_tiwari_22

  • shishu_tiwari_22 9w

    नज़्म - करवाचौथ

    उसने मेरे लिए करवाचौथ का व्रत रखा था ,
    वह सजी - संवरी थी ,
    बालों में गजरा, आंखों में काजल , मांग में सिंदूर ,
    कानो में बाली , नाक में नथुनी , होटों में लाली
    गले में मंगलसूत्र - वह मंगलसूत्र जो सातो जन्म मेरी रक्षा करने का प्रण था ,
    वह मंगलसूत्र जो हम दोनों को सात जन्म मिलाने वाला था ।
    हाथों में मेरे लाए हुए मां वैष्णो देवी के आशीर्वाद से गढे हुए सोने के कंगन ,
    हाथों में मेरे नाम की मेहंदी,
    वह नई नवेली सारी मेंने हाली में बनारस से लाई थी ।
    वह पैरो में इर्द - गिर्द लगी लाल लाली ,
    वह छम छम करती हुई चांदी कि पायल जो मैंने अपने घर से एक कारीगर से गढ़ाई थी ।
    वह पैरो में पहनी चांदी की बिछिया ,
    यह पायल ये बिछिया जिसके कारण पैरो की चमक और भी बढ़ गई थी ।
    वह ये सब कर , गणेश जी को पधर कर
    सात फल लिए , मीठे का भोग लगाएं ,
    पानी का ग्लास और बगल में चलनी रख ,
    गणेश जी को टिक करके , अगरबत्ती लगती और आरती कर रही है ,
    आरती करते ही गणेश जी से हमारी पारिवारिक जीवन की लंबी उम्र की प्रार्थना कर रही है , हमारे सात जन्म साथ रहने की कामना कर रही है ।
    लेकिन उस पगली को क्या पता था कि में मौत के मुख में खड़ा हूं ।
    वह समय भी की पाक था ,
    यमराज आए थे मेरे प्राण लेने ,
    उसके चलनी में हमरे रिश्तों की इतनी मिठास थी ,
    की ,
    उसने चलनी को चांद की तरफ रखा और चांद को उस चलनी में से ताका ,
    उस चलनी पे चंद्रदेव का आशीर्वाद ऐसा पड़ा की
    यमराज आए तो थे मेरे प्राण लेने लेकिन
    उन्हें उल्टे पग जाना पड़ा ।

    वाकई में प्यार में बहुत ताकत होती है ।
    ©shishu_tiwari_22

  • gumnam_shayar 11w

    शर्त

    एक दिवार
    तुम्हारे और मेरे दरम्यान
    नहीं होनी थी पर होती चली गई
    जज़्बातो की शरायतो की मुलाक़ातो की
    मुलाक़ाते जो होनी चाहिए थी
    पर अफसोस न हो सकी
    गलतफहमियां तो कोई नहीं
    शायद अहम ने वो काम कर दिया
    वक्त ने तो बहुत कोशिश की
    जब लगता की तुम्हे भुल रहा हूँ
    तो कहीं न कहीं किसी बहाने तुम सामने आ जाती
    कभी अकेले
    तो कभी रुकावटों के साथ...तुम्हारे दोस्त
    ऐसा नहीं की कोशिश नहीं की मैंने
    पर रूक जाते कदम
    सोचकर की मुझसे अच्छा भी कोई मिल सकता है तुम्हे
    यक़ीन होना भी अपने प्यार पर कितना ज़रूरी है
    क़ाबिलियत बहुत थी मुझमें
    पर एक बहुत बड़ी कमी भी साथ लिए था मैं
    हाँ वही पैसे और औकात वाली बात
    जहाँ आकर हर मोहब्बत दम तोड़ देती है
    गलत है ना......बहुत गलत
    इसलिए तो मोहब्बत करने का हक़ उन्ही को हो
    जिन्हे सारे शर्त मंजूर हो कि दिल टूटने के बाद
    तुम करोगे किसी नए की तलाश और नहीं क़ुर्बान करोगे किसी एक पर अपनी जान....

    ©gumnam_shayar

  • gumnam_shayar 14w

    यूहीं नहीं हर किसी से राज़-ए-दिल खोलते हैं
    हम उन सब के दोस्त हैं जो मीठा बोलते हैं

    ©gumnam_shayar

  • faceless_friend 16w

    Haq

    किस हक से तुझसे अपना हक मांगे, जिंदगी।
    जब जानता हूं तुझ पर कोई हक ही नहीं।।

    -vayuandjal

  • gumnam_shayar 19w

    हाँ मैं वक्त का पाबंद नहीं ��

    #jaunfalsafa #gumnam_shayar #paki

    Read More

    इश्क़ हो और कोई बात उसकी नापसंद भी मुश्किल है
    अजी शायर हो और वक्त का पाबंद भी मुश्किल है

    ©gumnam_shayar

  • gumnam_shayar 20w

    यूँ तड़के ना आँख मेरी खुली होती
    ख्वाईशे ना होती ना मजबूरी होती

    परदेश में भला ये कैसे सोचता मैं
    घर लौटते तो सामने अम्मी होती

    जलते हैं हाँथ और बनती है रोटियाँ
    घर पर होते तो हाथ में पट्टी होती

    किसी पर्व पर दफ्तर में सोचता मैं
    बच्चा होता तो यक़ीनन छुट्टी होती

    उजाले में निकले तो लौटते अंधेरे में
    मुक्तसर से वक्त में खाक़ शायरी होती

    बस अपनी ही फिक्र में खोया आदमी
    इंसानियत रहती तब न ज़िन्दगी होती

    दिल बेजान कैद है चलते जिस्म में
    ज़िन्दा लोगों से कहाँ खुदकशी होती

    ©gumnam_shayar

  • gumnam_shayar 20w

    बड़ा ताज्जुब हुआ तुम्हारी इस ना-समझी पर
    फासले बढ़ाकर अब तुम हमसे लगाव बनाओगे

    इससे अच्छा तो फिर धूप की तपिश ही थी ना
    उफ़ पेड़ काटकर तुम मेरे लिए छाँव बनाओगे

    ©gumnam_shayar

  • shishu_tiwari_22 17w

    उसके दिल में रवानी चाहिए ।
    मुझको बस ये कहानी चाहिए ।

    झूमे सारा शहर मेरे संग ।
    ऐसी दुनिया दीवानी चाहिए ।

    हम बातें समझले उसके आंखों की ।
    उसके संग ऐसी जिंदगानी चाहिए ।
    ©shishu_tiwari_22