#nation

618 posts
  • shivashish_kumar 1w

    Army Man

    Kal tk wo nadaan tha aaj wo jawan hai,
    Kahani hai Sainik ki , Jo ki ek insaan hai..
    Mohaabt ki us Umar , maut se anjaan tha
    Krna hai watan ke liye , chahe maut aaye shaan se,

    Mai jauga army me, isse sun Kar Hass pade,
    Motivation Dene wale log , usko demotivat Kar gye..
    Mehnt krke written qualify, dikha Diya sb log ko,
    Ab to IMA jauga bta Diya un log ko...

    Ghr se wo dur bs maa-baap ka aashirwaad hai,
    Aur gf ke sath Jo bitaye pal ,unki ek yaad hai..
    Uske ek hath me INSAS rifle aur dusre me ek tasvir hai,
    Chehre pe muskaan aur Tirange me lipatne ki pyaas hai...

  • georgian_sid 2w

    THE LIFE OF A SOLIDER

    .
    A solider, toughest is his life,
    Solitariness is the only feeling possessed by his wife,
    Wait is the only thing in the hands of his child,
    While he freaks himself out in the wild.

    He is bound to accept the orders,
    Lay his body, his soul, his life for the borders,
    The tales of his bravery are rife,
    He is a solider, toughest is his life.

    ©georgian_sid

  • tanmay5 2w

    छत्रपति शिवाजी महाराज जयंतीच्या हार्दिक शुभेच्छा।

    #maratha
    #hindu
    #nation
    #sanatanadharma

    Read More

    राष्ट्ररक्षक

    हर हर महादेव का था स्वर प्रचंड
    मच गया था रक्त में तेज ज्वलंत,
    हृदय में विश्वास अटल ही था
    विलयतियों पर आया कहर ही था।

    थे वह सह्याद्रि के स्वामी
    पर हृदय में हिंदुत्व के रक्षक ही
    पौढ़प्रताप पुरंदर, क्षत्रियकुलावतंस
    सिंहासनाधीश्वर , राजाधिराज ,महाराज , योगिराज
    श्रीमन्त छत्रपति शिवाजी महाराज थे
    स्वराज्य के मुकुटमणि।

    जागो अब और बढ़ो आगे,
    उनके प्रताप से सीख लो तुम,
    समाज के लिए अपना जीवन का
    पूर्ण समर्पण कर दो तुम।
    ©tanmay5

  • just_eesha 3w

    Those who sacrifice their
    lives for the nation don't
    really care about anything
    else other than protecting
    the dignity of their motherland.

    © Eesha

  • abhayprverma 3w

    "उस वेलेन्टाइन वो अपने महबूब को तोहफा क्या खास दे गये,
    गुलाब, गुलदस्ता तो सब देते हैं वो वतन पर अपनी जान दे गये।"
    ©abhayprverma

  • sam_mustang 3w

    Soldire says

    Want to lead,
    No matter if I blead.
    My land is my mother,
    Holding in hands is my colour.
    ©sam_mustang

  • atadash 4w

    Sunna hai koi kanoon aya hai

    Sunna hai koi kanoon aya hai
    Na tune mujhe se puccha
    Na tune muhje bataya hai
    Itni hi meri fikar hai
    Toh aa aur mujhse meri takleef pucch
    Kyoun gairon sa nazar churaya hai
    Sunna hai koi kanoon aya hai

    Loktantra ki laaj hi rakh le
    Kyoun lassi aur chai ka bair dikhata hai
    Jab aaten hain dono dhoodh hi se
    Phir kyoun adha sach ka path padhata hai
    Arre pagdi pehen aur sisha dekh
    Usme bhi thuje main dikhunga
    Sach bata jo bhi laya hai, kis k liye laya hai
    Suna hai koi kanoon aya hai

    Ro rahi hai sikhshya ki devi
    Jis ne bhed bhav ka path na jana hai
    Jati dharm par aesi soch
    Kyoun NCERT ne preamble chapwaya hai
    Insaniyat ki path padho aur khud se sawal kar
    Kya bhagwaan sirf Radcliffe aur mac mohan tak samaya hai
    Sunna hai koi kanoon aya hai

    A.Dash

  • harsh77 6w

    Love you INDIAN Army
    I feel proud as Indian����
    #love #indian #india #happy #republicday #republic #72th #army #nation #we #stay #in #peace

    Read More

    Republic day

    Happy republic day guys
    This is for those who stays at border
    For our good sake,
    The temperature of Siachen is -30°c Normal human being can't resist the temperature of -30 and in rajasthan +40 i always wondered how they can survive in very lowest temperature a nd very highest temperature, they are incredible human being I've ever seen.
    They take bullets on their chest and sacrifice their lives for us so we can celebrate all festivals peacefully ❤️
    salute to Indian Army
    ©harsh77

  • manuhere 6w

    अनुपमा व्रत

    - मनु मिश्रा
    लिखो बांकुरों लिखो कबीरों
    भारत की अनुपम कहानी
    थिथिल धरा पर अडिग तिरंगा
    म्रत्यु पर छा जाए जवानी
    क्या परिचय उस देवलोक का
    सौरभ जिसकी माटी की मतवाली हो
    देवी गाए तो फागुन का मेला
    मुस्काए हर दिन दिवाली हो
    जिस के लोगों में बहता लहू
    चन्दन का पानी
    लिखो बांकुरों लिखो कबीरों
    ऐसे भारत की अनुपम कहानी
    नतमस्तक होता हो नभ
    जिस अम्बर की आभा में
    कौन झुका सकता वो मस्तक
    पराधीन परिभाषा में
    कश्ती है हिचकोले है
    मौसम न एक सा सानी है
    फिर भी मंजिल का जोश रगों में
    म्रत्यु पर छाती जवानी है
    सुनो बांकुरों सुनो कबीरों ऐसी
    भारत की अनुपम कहानी है

  • prakhu_13 6w

    26th January

    आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.....

    ©prakhu_13

  • leowords08 6w

    Some like Sunday,
    Some like Monday,
    But I like One Day
    And that is Republic Day
    Wishing you all a very
    Happy Republic Day 2021!

  • keithallencovell 6w

    It Wasn't Only I

    They looked down on me
    But I fought for them
    Cold shoulder
    Bitter
    Better
    Simmer down
    It wasn't only I

    ©keithallencovell

  • pankaj10k 6w

    In the winter nights as the mercury plummets
    He is the one still preventing the covet
    An altitude of 5400m and -57 degree Celsius
    With his assualt rifle ,he feels more wealthiest
    In a harsh condition of hypoxia, he doesn't care for alzimer
    "A life less ordinary " is just a primer
    In a condition of snow blindness he still keeps a close view,
    Sighting the enemy, he silently cocks the rifle and preview,
    Taking them down ,the crossfiring starts
    Killing them all ,he suffers from six bullet shorts
    Still persisting to save his mother land
    Falling on knees,holding the tricolour in his hand
    He says Hai meri zameen afsos nahi
    Jo tere liye sau dard sahe,
    Mefoos rahe teri aan sadaa,
    Chahe jaan meri ye rahe na rahe,
    ©pankaj10k

  • tanmay5 8w

    पानीपत ।।

    दत्ता जी शिंदे बुरारी घाट दिल्ली में अफगानों से लड़ते हुए मारे गए। तब सदाशिव राव भाऊ महाराष्ट्र से एक बड़ी सेना के साथ उत्तर में मुग़ल पादशाही की रक्षा के लिए आए परंतु सूरज मल जाट राजा के अलावा किसी शाशक ने उनका समर्थन नहीं किया। नजीब ने अवध के शूजा उद्दौला को इस्लामी कार्ड खेल के अपने साथ मिला लिया था। भाऊ साहिब को बाद में सूरज मल का साथ भी नासीब न हुआ क्योंकि दोनों एक दुसरे की शर्तों को नहीं मान रहे थे। सूरज मल आगरे का किला व दिल्ली के शहरी इलाके चाह रहे थे व इमाद उल मुल्क को वज़ीर बनाना चाहते थे परंतु सदाशिव को यह मंज़ूर ना था। इसके बाद भाऊ साहिब ने दिल्ली जीती और कुंजपुरा में अफगान किले को फतह किया। परंतु अब्दाली को यमुना पार करने से रोक न सके और दोनों फौजें पानीपत में आमने सामने आ गईं। दोआब में गोविंद पंत बुंदेले भी अब्दाली की रसद काटने में असमर्थ रहे व मारे गए। ऐसा में रसद न मिलने के कारण 14 जनवरी 1761 को भाऊ साहिब ने लड़ते लड़ते दिल्ली पहुँचना चाह परंतु शुरू के 4 घण्टों में मिली विजय से वे मराठो की जीत नज़दीक देख के सब लड़ने लगे। परंतु उसी समय विश्वास राव जो कि पेशवा का पुत्र था एक गोली लगने के कारण मारा गया, इब्राहिम खान गार्दी अपने तोप न चला सका क्योंकि मराठा टुकड़ियां उसके आगे लड़ने चली गई। उधर अब्दाली ने अपनी मिलीट्री पुलिस को लड़ने भेज दिया व भागे हुए सैनिकों को भी वापस भेज दिया। युद्ध हाथ से फिसलता देख मल्हार राव होलकर वहाँ से बाहर निकल जाट रियासत चले आये। मराठो की हार हुई , सदाशिव राव भी लड़ते लड़ते शाहिद हो गए। बड़े कष्ट के साथ कहना पड़ रहा है कि इतनी प्रयास के बाद भी सफलता प्राप्त नहीं हुई। अगर 1758 में ही नजीब को मल्हार राव ने मार दिया होता जैसा कि रघुनाथ राव व दत्ता जी चाहते थे तो ऐसा न होता। राजपूतों के आपसी झगडों में दखल के कारण जयपुर के राजा माधो सिंह व अन्य ने भी समर्थन नहीं किया।
    ©tanmay5

  • siddharth1 9w

    पूछना हो तो...

    पूछना हो तो मुझसे पूछो मेरा हाल
    यूं तो यूं ही अफवाह से घिरा रहता हूँ मैं
    लगता नहीं कि वतन हूँ तुम्हारा
    हर वक्त किसी दहशत में जीता हूं मैं

    सुर्ख़ियों में घसीटा जाता हूं
    रोज अखबार में मुंह छुपाता हूं
    तुम्हारी नादान हरकतों से
    वक्त का ऋणी बनता जा रहा हूँ मैं

    बात यह भी कोई नई नहीं
    तुम्हारे पीढ़ियों के भी कर्ज उतारे हैं
    वक्त की हर दहलीज पर
    ना जाने कितनी बार शस्त्र डाले हैं

    इंतजार करता रहता हूं
    सब वक्त पर छोड़ दिया है मैंने
    थका नहीं हूं फिर भी
    अब वक्त का आसरा लिया है मैंने

    और भी जानना हो अगर मेरा हाल
    तो खुद की खबर ले लेना एक बार
    और फिर भी वक्त ना मिले
    तो सुर्खियों में तो यूं ही मिलता रहूंगा हर बार

    ©siddharth1

  • gutzwvw 15w

    Veer Khan Deed

    Which king died?
    Or did he abide.
    His brides dictation.
    As she ruled the nation.
    ©gutzwvw

  • anishk07 15w

    Pride

    Oh God, Where Saffronity Defines Sacrifice,
    Himalayas Guarding With Imperishable Layer Of Ice;
    Countryman Fighting At Border On Point Of Spiess,
    Our Will And Strength Stand As Strong As Gneiss;
    Farmers, Our Heart, Cultivating Grains, Pulses And Rice,
    To Feed Our Nation, Paying Their Life As Price,
    Natural And Panoramic Beauty Makes Us Entice,
    Where Freedom, Equality Sovereignity, Are Faces Of Dice;
    I Am Born In India, Thank You God For This Excise,
    Thank You God For This Excise🇮🇳♥️
    ©anishk07

  • storyteller_agam_ 19w

    SOLDIER

    The one who dies for nation
    Love their family and work with passion.
    The real heroes with real work, are our soldiers with all the work.
    Love is all they want to carry out feeling by being numb. And they are those, who are completely one of wow! I don't know working how with all the energy I am feeling now.
    We call them soldiers, the power of nation, the strength with passion and love with affection.


    ~Agam
    ©storyteller_agam_

  • chiikuuu 20w

    डरो उस बूढ़े किसान से जो,
    जोत देता हैं "सैकड़ों एकड़ जमीन"
    उसे सींचता हैं "अपने पसीने से"
    जिससे लहलहा उठती हैं "फसलें"
    सोचिए
    अगर वह जोत दे इन लहलहाती फसलों को,
    तो क्या होगा??

  • kriti_dinesh_shukla 29w

    #freedom #caste #discrimination #indian #india #indipendenceday #republic #indian #race #religion #hinduism #islam #muslim #poetry #thoughts #inspiration #motivation #country #nation




    We got freedom from the Britishers but we are again conquered by the religions and caste .
    We proudly say that India is a democratic country but still we fight on the name of religion , we fight as Hindu or Muslim .
    There is no religion or caste in India except one religion and that religion is Indian (Hindustani).
    Until and unless we don't stop fighting on the name of religion we are not fully independent.

    If you are really a true Indian then from today follow only one religion that is Hindustani (Indian).
    © Kriti Arya
    Indian ����

    Read More

    .