#teamyus

542 posts
  • flow_143 6w

    You see, my 'ideal' man is him. He doesn't know it, maybe he will never that is if he got to read this sentence. He will never exactly know how I REALLY mean it. It is less like the space between the first text "I love you" and the second "I really love you so much" I sent after 1.2 seconds and more so like the letters I wish to write to you in cursive writings, where each letter proposes to the syllable, completely entwined. To the address I found in a complete forest of details, that I looked up till 5.32am on a random night...or morning...or the time between Tuesday and Wednesday when the world is completely innocent, unpossessed by the cynicism. You see he will never really know, how I bookmark the pages not with the flowers, but the scrambled, scented dust I make from them as I tear it from its emotions between my cold fingers that reject to show you how much you really mean to me. I keep it at vulnerability when you ask me, but it actually is mutuality. It's unusual to think so intensely, about how each second of our silence pulls me into a moment I live when I kiss your dry lips and fill each crack on that bottom lip, while in reality, you are on a grey wall sipping the papery taste from your cigarette. I never tell you all of this, because I don't know if you would seal that broken top button on my shirt with your intentions before any other guy laid an eye on my bare skin because I feel I belong to you. No, don't mistake this for overprotectiveness, its rather the intent I desiderate than wanting the prolonged, pesky arguments that don't know how to end at love. I don't know if you would really know the love I have for you, that I don't show because I don't know if your love looks out (although it is practically impossible to make it to that minute), when I took the last sip of an intoxicating Nazm (verse), then diluted in my midnight coffee to wear off its passion before I text "Good morning" to you.

    ~ she's sapiosexual

    // FLOW //


    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @roli_1312 @pa_luck @prernaanmol @saumya_mis

    Read More

    .

  • flow_143 19w

    Agitating words
    Unknown indifference
    Unlike her, but just like void
    Growing
    Numbing
    Desolated
    Forming a silver stark
    When everyone's asleep
    Dreaming infinitely
    Nightmares crawl, closely
    Warmth too, unfamiliar now

    ~ Flow

  • flow_143 22w

    Translation:

    You are defeated,
    Scattered
    Just like these stars today
    In this sky
    Where there are broken words
    And us.

    ~ Flow


    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @roli_1312 @n_logn @pa_luck @prernaanmol @a_funny_guy @saumya_mis

    Read More

    .

  • flow_143 23w

    Between
    Twinkling lights
    Faces
    Turned blind
    Thoughts
    Stirring inside
    Not wanting
    To stop tonight
    As i walk past
    This winter
    At midnight
    Dancing to forget
    The lone me
    Who forgot
    There's nothing
    But absence
    And me
    Strangers smile
    At my crazy
    Misery unfelt
    Veiled by 'busy'
    Materialistic joys
    Beautiful
    Like carousels
    Round and round
    Stirring in talks
    No more genuine
    Maybe its her
    Her heart
    That forgot
    What 'real' feels
    Far far far
    From everyone
    I'm lost inside
    Where lights
    Are bright
    Like a companion
    This winter
    Tonight.


    // FLOW //

    Photograph taken by me ❤️


    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite
    @roli_1312 @pa_luck @a_funny_guy @saumya_mis

    Read More

    .

  • flow_143 26w

    I don't daydream anymore
    Or count who left and who came.
    No longer dipped in the melancholy
    Of my mind.
    It should be a good thing, right?
    I don't know what it is though.
    When the tingles no longer pierce me.
    Only the relevant started to matter
    The irrelevant doesn't wander anymore.
    Neither empty nor filled
    This galaxy of a thousand thoughts.
    I don't sit anymore
    Beside my own soul.
    To ask her if she feels anymore.
    With time escaping
    Quicker than dry sand granules
    I don't feel
    The old me anymore.

    ~ Flow

    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @roli_1312 @n_logn @pa_luck @prernaanmol @a_funny_guy @saumya_mishra

    Read More

    .

  • flow_143 33w

    I find pleasure in committing all the sins
    Smirking, imagining
    Murdering a bit inside of me
    The one that cries
    Overwhelmed with thoughts
    Possibly emotions too
    But they forgot to knock the door
    Of my eyes today
    I saw them gush out
    Whilst I was dripping in blood
    Caressing the child in me
    Who did wish, she was alive
    But I killed her for the billionth time
    Just like all the other times, when
    She peeked out
    I told her to die again
    She daren't reveal herself
    No one takes care of her
    So I'll take the throne
    And decide who is to leave
    And who is to rein.

    // FLOW //

    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts

    Read More

    .

  • flow_143 36w

    The day pleads the night
    To fall and weigh everything down
    Sink, into the nothingness
    Of the stars, clouds and everything else
    And surrender, going to sleep
    And turn the lamps on once again
    Hold the light, for as long as it can
    I have become unwilling
    To close my eyes, and let the dark
    Absorb me.
    The gravity already pulls me down
    Whether day or night
    But day feels friendlier, as the night comes
    Hunting for me

    The day pleads the night
    To fall and weigh everything down
    Just like emotions, that lost their meaning
    And people, that lost their value
    But my pride is still held high,
    Although feelings have fallen in defeat
    I guess, its worthless to ever hope
    That one day -
    Feelings will too be adored
    Held high just like that northern star
    That shone last night
    As I plucked it from the sky
    While I too plead, for life
    To hold me high and not let me fall
    Because if I did,
    Maybe I would never get back up.

    // FLOW //

  • vickyprashant_srivastava 38w

    मैं फिर मिलूँगा तुमसे
    जब तुम्हारी आँखों मे एक अनकहा इंतज़ार होगा
    उस रोज जब तुम दरवाजे पर खड़ी राह देखोगी
    जहां तुम नफरत करोगी मुझसे मेरे अक्स से
    और जब मैं सामने आऊं तो आंखे नम होंगी तुम्हारी
    मैं फिर मिलूँगा तुमसे
    वही शिद्दत जब मैं देख लूंगा तुम्हारी आंखों में
    वो मेरी चाहत में तुम्हारी बेकरारियां यूँही
    मुझे सोचने भर से जो लाल होता है चेहरा
    जब आंखों के कोनो में वही थकान होगी
    मैं फिर मिलूँगा तुमसे
    मेरी बेसबरियाँ जब तुमसे मिलने को होंगी
    जब तुम बुलाओगी एक खामोशी से मुझे
    मुझे को ठहराव देखना है जो तुममे नही था
    वही इंतज़ार जब तुमको फिर एक बार होगा
    मैं फिर मिलूँगा तुमको
    उस दिन फिर जब फूलों को नये रंग में देखूंगा
    जब तुम भी मेरे साथ कहीं दूर चलोगी
    तुम्हे रंगों से प्यार जब हो जाएगा यूँही बस
    जब तुम सीपियों और शंख से इश्क़ कर लोगी
    मैं फिर मिलूँगा तुमको

    @guftgu @riyabansal @ritusinghrajpoot @naajnaaj @piaa_choudhary
    #rekhta #shayri #bepanah #muddat #teamyus #muhabbat #kitab #ful #soch #khwab #feelings #touched #r89 #pod #mirakee #ayeshakazi #writerstolli #things_that_matter #shruti_sinha  #hks #hkskavita #vtt #panchdoot #du #hindilekhan #typewriter #trust_wt #osr #hindiwriterslink #shabdanchal

    Read More

    एक कसक..

    कुछ यादें जो आपके साथ पूरी उम्र जाती हैं
    एक सोच जो आप कभी भी खोना नही चाहते
    और एक चाहत
    जो अधूरी होके भी खालीपन नही आने देती।
    ©vickyprashant_srivastava

  • uroosakamran 39w

    Forever exists in those little fond moments
    when our eyes meet and
    we keep falling into them

    Forever exists in those little fond moments
    when we hold eachother
    and everything around us fades away

    Forever exists in those little fond moments
    when you come to me and say you love me
    and I cant stop blushing

    Forever exists in all those little moments
    when You and I are together.

                                        



    ©uroosakamran

  • flow_143 42w

    This is for my Akku @n_logn come back na please

    Maybe it was the forever
    We created while we laughed
    And then -
    It slipped ; with each inch these clouds moved the mountains in me and stars
    fell apart.
    My world changed
    I don't know what to do without you
    And your night time stories, of a curly-haired girl tucked next to me...or an idiotic boy, admiring me from far but a kid up close, poking my nose.
    I've taken a promise from you
    Don't forget that now
    When we slept under the same sky
    Oceans away
    Come back now.

    ~celestine

    // FLOW //

    ◆ I don't know where he's gone and I don't know how else to call him back. If you guys can help me call him back and send some blessings over that would be more than enough. Thank you.

    PS: No he's not my partner, he's one of my dearest friends

    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts

    Read More

    .

  • vickyprashant_srivastava 42w

    आदतन

    बस सोचता हूँ मैं तुम्हें
    पल पल बदलते वक्त में
    पर साथ जब होते हो मेरे
    कुछ कह न पाता हूँ मैं आदतन।।
    मैं भी तो तन्हा रात भर
    आंखों को अपनी रोकता हूँ
    बेबात छलक जाती हैं ये
    तेरे जिक्र होते ही आदतन।।
    हर बात तेरी मुझे याद है
    भूला न अब तक कुछ भी मैं
    सुर्ख लाल सी कुर्ती तेरी और
    दुपट्टा बस एक तरफ लेती थी अक्सर आदतन।।
    बारीक सा काजल इन आँखों मे
    जो तुम यूँ ही लगाती हो
    मैं झुमकों से अब भी किलस जाता हूँ
    तेरे गालों को चूमते हैं आदतन।।।
    मैं कुछ भी कहाँ भूला हूं
    क्या क्या बताऊँ तुम कहो
    बिखरती जुल्फ में उलझा हूँ अब तक
    इन्हें कैद में रखती थी तुम आदतन।।
    पिछली बारिश यूँ न थी तुम साथ थी
    फ़क़त पत्ते हरे थे,एक खामोशी थी
    भीगी हुई,तुम मुझसे लिपटी हुई थी आदतन।।
    इस बार फिर से ख़्वाहिशों को आरजू है
    पिछली सीट bike की अभी खाली पड़ी है
    दो कुर्सियां lawn में अब भी वही हैं
    चाय अब भी दो ही cup बनाता हूँ मैं आदतन।।
    ©vickyprashant_srivastava

  • flow_143 44w

    Folded letters
    Turned to dust
    The petrichor
    Calling out
    Our names
    As I settle
    Onto your skin
    Like rusted dirt
    And you like rain
    Pouring onto me
    Tipping my bottle
    Of unsaid emotions
    That penetrate
    Deeper
    Than my goosebumps
    And pierce me
    So bad
    It hurts
    Alot
    But
    I...
    I love you
    And I can't do
    Anything
    About it
    So here
    I blow
    On these specs
    Of memories
    Wrriten
    On these pages
    Blending
    With the salty
    Rain - you
    Who seeps
    Into my
    Vulnerable space
    Under
    Your messy curls
    And warm desires
    And empty
    Eyes
    That fill
    For 2 seconds
    When they
    See me
    Being yours.
    Is it too much
    To ask
    To stay
    And belong
    Together
    Because
    I am tired
    Of being alone
    Hurt
    Held uncertain
    From my own fate
    Of speaking
    I want to be
    Hushed
    Silent
    Sheltered
    From myself
    My monsoon
    Will you
    Please remain?

    // FLOW //


    ◆ Thank you so much for all the comments on my previous posts while I was away.
    Means a lot guys ����

    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @roli_1312 @n_logn @pa_luck @prernaanmol @a_funny_guy @saumya_mis

    Read More

    .

  • flow_143 45w

    It is your responsibility towards yourself
    for what feelings huddle into a coocoon to make home inside your soul; your destruction and your seasons of flourishing, your frowns and your vulnerability, to remain or disappear are your own decisions. People and situations are merely just a source, which lead you to either empower yourself or forever feel crippled. It is your responsibility, for the person you were, you are and who you become.

    ~responsible and careless

    // FLOW //

    ◆Will get back to comments and tags soon ��

    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @roli_1312 @n_logn @pa_luck @prernaanmol @a_funny_guy @saumya_mis

    Read More

    .

  • vickyprashant_srivastava 46w

    मोहब्बत aur baarish

    फिर क्या वही बारिश आ जाये।।
    तुम जो आये हो कोई राहत सी आ जाये।।
    वो जो गुजरा था एक हादसा था।।
    तुम आये हो अब रंगत सी आ जाये।।
    एक उम्र गुजार दी जो राहों में देखते
    तू जो मुस्कराये एक उम्र सी मिल जाये।।
    फिर क्या वही बारिश आ जाये।
    ख्याल बन के फिर बरसना
    मेरी रूह भी तर हो जाये
    तू जो मुस्कराये एक उम्र सी मिल जाये।।
    एक गुलाब लिए हाथो में तेरी ओर
    हज़ार सवाल फिर वही सिकन
    मन्नतों तक हो आया ये छोटा सा सफर
    तू थाम ले गुलाब दुआ कुबूल हो जाये।।
    तुम जो aaए हो कुछ रंगत सी आ जाये।।
    जो ठहरी थी किसी मोड़ पे जिंदगी थी,
    इस रोज तू इसे छूकर जो गुजर जाए
    चल मैं भी तेरे साथ कुछ दूर तो चल लू
    अपने एहसासों की कुछ तहे तो खोल लू
    वो दौर नही गुजरा की तुम्हे बाहों में न लू
    तुझसे नजरे मिला के इजहार न करू
    आ बैठ मेरे पास तेरी जुल्फों से जरा खेलू
    फिर से जो वही बारिश आ जाये।।
    तुझ संग भीग लू।। तू भीगी सी सरमाये।
    बारिश तेरे बदन की तराशों से गुजर जाए।
    तुझे थाम लू, सिमटी सी तू मुझमे
    सुन न जरा।।
    क्या खूब जो तुझे भी मुझसे मोहब्बत हो जाये।।
    ©vickyprashant_srivastava

  • vickyprashant_srivastava 47w

    ।।।।ये भी एक प्यार का रंग है गाँव की खुशबू से प्यार।।।।
    तुम चलो तो मैं ले चलूं.. उस ओर तुम्हे
    जहाँ आज भी पुरवाईयाँ बहती हैं....
    जहां आज भी कोई बच्चा मिट्टी में लोटता है
    इस शहर की दौड़ से दूर चलो तुम...
    सरसों के खेत हैं जहां,जहां दिन सुबह ही होता है
    जहां नीम के दातुन जहां कोयल चहकती है
    तूम चलो तो मै ले .....
    सांझ ढले ही जहां सब साथ होते हैं
    जहां सब मिलकर सारे गम बाट लेते हैं
    वो पीपल की छांव मैं तुम्हे दे सकूँ
    वो ओढ़नी वो आँचल,वो शर्म से सिमट ती लड़कियाँ
    हम भूल बैठे हैं फ़क़त,रिश्तों की सब नजदीकियां
    खेतों में उपजे अन्न की कीमत लगाने चल दिये
    मरता रहा वो दीन कृषक,हम आंसू बहाकर चल दिये
    कितना सुकून और चैन कितना
    पहली किरण ताजी हवा और पगडंडियां....
    गाँव के तालाब में पहली बार देखी थी मैने मछलियां
    कोठियां,कारे और ac यहाँ ये खुशियां कहाँ रहती हैं।।
    तुम चलो तो मैं ले....

    #rekhta #shayri #bepanah #muddat #teamyus #muhabbat #kitab #ful #soch #khwab #feelings #touched #r89 #pod #mirakee #ayeshakazi #writerstolli #things_that_matter #shruti_sinha  #hks #hkskavita #vtt #panchdoot #du #hindilekhan #typewriter #trust_wt #osr #hindiwriterslink #shabdanchal @hreetu @ruchika_sharma @smi_vaid @neha_netra @riyabansal @anita_sudhir @rittujoshi @vishalprabtani @guftgu @sahilvij

    Read More

    चलो न....

    ।।।।ये भी एक प्यार का रंग है गाँव की खुशबू से प्यार।।।।
    तुम चलो तो मैं ले चलूं.. उस ओर तुम्हे
    जहाँ आज भी पुरवाईयाँ बहती हैं....
    जहां आज भी कोई बच्चा मिट्टी में लोटता है
    इस शहर की दौड़ से दूर चलो तुम...
    सरसों के खेत हैं जहां,जहां दिन सुबह ही होता है
    जहां नीम के दातुन जहां कोयल चहकती है
    तूम चलो तो मै ले .....
    सांझ ढले ही जहां सब साथ होते हैं
    जहां सब मिलकर सारे गम बाट लेते हैं
    वो पीपल की छांव मैं तुम्हे दे सकूँ
    वो ओढ़नी वो आँचल,वो शर्म से सिमट ती लड़कियाँ
    हम भूल बैठे हैं फ़क़त,रिश्तों की सब नजदीकियां
    खेतों में उपजे अन्न की कीमत लगाने चल दिये
    मरता रहा वो दीन कृषक,हम आंसू बहाकर चल दिये
    कितना सुकून और चैन कितना
    पहली किरण ताजी हवा और पगडंडियां....
    गाँव के तालाब में पहली बार देखी थी मैने मछलियां
    कोठियां,कारे और ac यहाँ ये खुशियां कहाँ रहती हैं।।
    तुम चलो तो मैं ले....
    ©vickyprashant_srivastava

  • yusra_qasim 49w

    How can I forget?
    How your words felt in my heart
    When you promised we'd never be apart
    Those words were simple lies
    And now they have broken all ties
    We have nothing left between us
    All I have is my broken trust
    And I hope to mend it
    So that another heart it can fit
    ©yusra_qasim

  • myuwrites 49w

    at the funeral of my own thoughts
    images that are tied up in knots
    faces flashing at me
    seeking my attention
    mere reflections of the past
    on the roads, that i have passed
    my demons are finally here
    to see my thoughts die
    a story , they forgot to tell
    straight from the heavens to hell

  • vickyprashant_srivastava 49w

    1st time you will read this concern...

    A letter to present to my ex
    एक बात कहनी थी तुमसे, तुम अब उसके सबसे खास हो
    बहुत नाजुक सी है वो,संभालना जरा तुम उसके खास हो
    उसे चाय पसंद है,सुगर थोड़ी जादा लेती है
    गर्म नही पीती,चाय वो फूक फूक कर पीती है
    उसे रोकना मत सुनो उसे शॉर्ट्स पसंद हैं।।।
    Offshoulders पहनती है न वो,उसे पसंद है।
    बड़ी नाजुक है वो... संभालना जरा,तुम उसके एहसास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे......
    उसे घुमाने जरूर लेके जाना,बहुत शौक है उसे
    पराठों के बिना तो चलेगी नही, तुम ध्यान रखना
    थोड़ी जादा ही नखरेबाज है वो,नखरे भी उठाते रहना
    सोचा बता दूं तुम्हे, तुम जो अब उसके सबसे खास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे.......
    हिसाब बहुत रखती है वो,तुम जरा ध्यान रखना
    तुम दे के भूल जाना, वो हर एक बात याद दिलाएगी तुम्हे
    और हां सुनो,उसे छेड़ना मत,वो रूठ जाती है
    उसके बालों से मत खेलना,रो भी जाती है वो
    तुम देख न पाओगे,तुम अब उसके दिल के सबसे पास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे......
    वो जब बोले तो सुनते जाना,उसे तुम टोकना मत
    उसके गाल मत खींचना, हालांकि उसे पसंद है
    पर वो ex है न मेरी,वो तो मेरी पहली पसंद है
    कपड़े बहुत पसंद हैं उसे,हर वीकेंड घुमाएगी वो तुम्हे
    तुम ना नही बोल पाओगे,तुम अब उसके सबसे खास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे....
    उसे नींद बहुत प्यारी है,सुबह उठती नही है वो
    उसे प्यार से जगाना और एक चाय ले के ही जाना
    उसकी आंखें प्यारी है,उसके चेहरे में डूब जाना
    वो जब अंगड़ाइयां ले,उसके गालों को चूम जाना
    तुम्हे जानना जरूरी है सब बात,तुम उसके सबसे खास हो।
    ये उसका हुनर है वो सब जान लेती है,
    तुम तोहफे ले के जाना और आंखे उसकी बंद रखना
    कुछ कहे वो कि पहले तुम होठों को चूम जाना
    वो अब भी शर्म से नजरें झुका लेती है।।
    ये सब  बात कहनी थी तुमसे....तुम अब उसके सबसे खास हो।।
    #rekhta #shayri #bepanah #muddat #teamyus #muhabbat #kitab #ful #soch #khwab #feelings #touched #r89 #pod #mirakee #ayeshakazi #writerstolli #things_that_matter #shruti_sinha  #hks #hkskavita #vtt #panchdoot #du #hindilekhan #typewriter #trust_wt #osr #hindiwriterslink #shabdanchal
    @neha_netra @guftgu @riyabansal @ritusinghrajput
    @raginimaurya_ @sanjeev_mrigtrishna @smi_vaid @rittujoshi

    Read More

    A letter to present of my ex

    Just poetry not the real experience
    A letter to present of my ex..
    एक बात कहनी थी तुमसे, तुम अब उसके सबसे खास हो
    बहुत नाजुक सी है वो,संभालना जरा तुम उसके खास हो
    उसे चाय पसंद है,सुगर थोड़ी जादा लेती है
    गर्म नही पीती,चाय वो फूक फूक कर पीती है
    उसे रोकना मत सुनो उसे शॉर्ट्स पसंद हैं।।।
    Offshoulders पहनती है न वो,उसे पसंद है।
    बड़ी नाजुक है वो... संभालना जरा,तुम उसके एहसास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे......
    उसे घुमाने जरूर लेके जाना,बहुत शौक है उसे
    पराठों के बिना तो चलेगी नही, तुम ध्यान रखना
    थोड़ी जादा ही नखरेबाज है वो,नखरे भी उठाते रहना
    सोचा बता दूं तुम्हे, तुम जो अब उसके सबसे खास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे.......
    हिसाब बहुत रखती है वो,तुम जरा ध्यान रखना
    तुम दे के भूल जाना, वो हर एक बात याद दिलाएगी तुम्हे
    और हां सुनो,उसे छेड़ना मत,वो रूठ जाती है
    उसके बालों से मत खेलना,रो भी जाती है वो
    तुम देख न पाओगे,तुम अब उसके दिल के सबसे पास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे......
    वो जब बोले तो सुनते जाना,उसे तुम टोकना मत
    उसके गाल मत खींचना, हालांकि उसे पसंद है
    पर वो ex है न मेरी,वो तो मेरी पहली पसंद है
    कपड़े बहुत पसंद हैं उसे,हर वीकेंड घुमाएगी वो तुम्हे
    तुम ना नही बोल पाओगे,तुम अब उसके सबसे खास हो।
    एक बात कहनी थी तुमसे....
    उसे नींद बहुत प्यारी है,सुबह उठती नही है वो
    उसे प्यार से जगाना और एक चाय ले के ही जाना
    उसकी आंखें प्यारी है,उसके चेहरे में डूब जाना
    वो जब अंगड़ाइयां ले,उसके गालों को चूम जाना
    तुम्हे जानना जरूरी है सब बात,तुम उसके सबसे खास हो।
    ये उसका हुनर है वो सब जान लेती है,
    तुम तोहफे ले के जाना और आंखे उसकी बंद रखना
    कुछ कहे वो कि पहले तुम होठों को चूम जाना
    वो अब भी शर्म से नजरें झुका लेती है।।
    ये सब  बात कहनी थी तुमसे....तुम अब उसके सबसे खास हो।।
    ©vickyprashant_srivastava

  • flow_143 50w

    It was like minuscule cobbles scratching, itching my inner surface of the skin; contaminating my blood with uneven granules flowing head to toe. Once it reached the core after an infinite wait, it turned all pale. It was too cold because I shivered but my mind was burnt with a hot lava-like rod. The silver of my soul kept sweeping away in pieces which not an ordinary being could get hold of. The pain gushed from my disguised normality in my lifeless smiles, to my lowered eyes that resisted to stare at their own tears in the foggy mirror. It formed the highest tor ever known and each grey muscle wanted to escape from the cage of my hilly skin and scream in oh so profound agony.

    It wasn't hurt. It wasn't sadness. No, it wasn't even grief.

    It was melancholy. It was trepidation.
    It always came true. Each and every time.

    The way my piercing cry, penetrating each cloud, it shot right up and beyond the tamed sun and the sleeping moon. I seemed to have snatched the sky from its freedom and came into a brawl with myself, with this melancholia. It wasn't cold anymore as I finally exhaled with the clouds above me, although the birds cuddled in their nests, I was bare and defeated under the cloudburst of a million raindrops; a thousand tears; ten prayers; for one love.

    // FLOW //


    #flow_poetry #rwu #pod #prw #teamyus #du #pos #writerstolli #wow #ceesreposts
    @mirakee @writersnetwork @readwriteunite @roli_1312 @n_logn @pa_luck @prernaanmol @a_funny_guy @saumya_mis

    Read More

    .

    .

  • vickyprashant_srivastava 51w

    एक flow bana के पढ़ना ... फिर लगेगा सच मे कितनी मासूमियत से भूल आये हो उसे किसी मोड़ पे, अपनी अपनी जरूरत और जिंदगी की दौड़ में....

    तुम्हे एहसास है... क्या छूट गया है छोटी छोटी बातों में
    कितने ही पल भूल गए हैं, हम तल्ख आज की बातों में
    बदन मखमली ख्याल मलमली तेरी काली काली आंखो में
    तरस गए हैं तुम्हे छूने को,लोगों की कही सुनी सी बातों में
    क्या छूट गया है....
    तुम अल्हड़ सी मस्त पवन के जैसी,इतराई इठलाई सी
    नाजुक सी एक कली के जैसी,सहमी सी शरमाई सी
    तुम नील गगन में चाँद के जैसी,तन्हा तन्हा दिख जाती
    मैं बादल बन कर कोशिश करता,तुमको हर वक़्त छुपाने की।।
    क्या छूट गया है....
    तुम स्याह समंदर,फैला हुआ सागर,कितने राज छुपाए बैठी
    तुम चंचल एक मस्त हसीना सी लहरें बन कर दौड़ा करती
    मैं एक किनारे डूब रहा हूँ,तू है रेत फिसल ती जाती है
    मैं सांझ का सूरज बन कर,मिलने आता हूँ लाल क्षितिज में।
    क्या छूट गया है छोटी....
    एक ख्वाहिश है मिलने की तुम संग,मेरे हो जाओ न तुम
    तुम रोज तो आती हो ख्वाबों में,आओ कभी बाहों में तुम
    तुमको फिर जाने न दूंगा,देखो इतना प्यार लूटा दूंगा मैं
    तुम चादर तकियों से आकर पूछो,हैं कितना भीगीं ये रातों में
    क्या 2 छूट गया है...
    #rekhta #shayri #bepanah #muddat #teamyus #muhabbat #kitab #ful #soch #khwab #feelings #touched #r89 #pod #mirakee #ayeshakazi #writerstolli #things_that_matter #shruti_sinha  #hks #hkskavita #vtt #panchdoot #du #hindilekhan #typewriter #trust_wt #osr #hindiwriterslink #shabdanchal @hreetu @riyabansal @neha_netra @guftgu @anita_sudhir @piaa_choudhary @naajnaaj @vishalprabtani @leeza18 @shuru_

    Read More

    क्या छूट गया..

    तुम्हे एहसास है... क्या छूट गया है छोटी छोटी बातों में
    कितने ही पल भूल गए हैं, हम तल्ख आज की बातों में
    बदन मखमली ख्याल मलमली तेरी काली काली आंखो में
    तरस गए हैं तुम्हे छूने को,लोगों की कही सुनी सी बातों में
    क्या छूट गया है....
    तुम अल्हड़ सी मस्त पवन के जैसी,इतराई इठलाई सी
    नाजुक सी एक कली के जैसी,सहमी सी शरमाई सी
    तुम नील गगन में चाँद के जैसी,तन्हा तन्हा दिख जाती
    मैं बादल बन कर कोशिश करता,तुमको हर वक़्त छुपाने की।।
    क्या छूट गया है....
    तुम स्याह समंदर,फैला हुआ सागर,कितने राज छुपाए बैठी
    तुम चंचल एक मस्त हसीना सी लहरें बन कर दौड़ा करती
    मैं एक किनारे डूब रहा हूँ,तू है रेत फिसल ती जाती है
    मैं सांझ का सूरज बन कर,मिलने आता हूँ लाल क्षितिज में।
    क्या छूट गया है छोटी....
    एक ख्वाहिश है मिलने की तुम संग,मेरे हो जाओ न तुम
    तुम रोज तो आती हो ख्वाबों में,आओ कभी बाहों में तुम
    तुमको फिर जाने न दूंगा,देखो इतना प्यार लूटा दूंगा मैं
    तुम चादर तकियों से आकर पूछो,हैं कितना भीगीं ये रातों में
    क्या 2 छूट गया है...
    ©vickyprashant_srivastava