Grid View
List View
Reposts
  • faizaeram 5h

    #इशारा

    अब भला क्या बचा खुल जाने को,
    कौन रहा बाकी समझाने को,
    टूट गये जो ऊंचे गुमान थे,
    सच को हुआ इशारा चुप जाने को!!
    ©faizaeram

  • faizaeram 5h

    #दहर

    यूं ज़ख्मों की चिंगारी को हवा न दो,
    के दहर का ग़ुरूर भी इक दिन टूटा था!
    ©faizaeram

  • faizaeram 7w

    #पत्थर

    वो घर बंजर हुआ जाने कब का,
    ये दिल पत्थर हुआ जाने कब का!
    ©faizaeram

  • faizaeram 7w

    Dedicated to "Rahat Indouri Sahab"

    कश्ती तेरा नसीब चमकदार कर दिया,
    इस पार के थपेड़ों ने उस पार कर दिया,

    दो गज ही सही मेरी मिल्कियत तो है,
    ऐ मौत! तूने मुझे ज़मींदार कर दिया!

    - राहत इंदौरी






    #Writerstolli#Mirakeenetwork#Hindipoetry#Urdupoetry#twoliners#sher#shayari#

    Read More

    #शायर

    जिनके लिखे को सैकड़ों पढ़ा करते हैं,
    भला, वो शायर भी कभी मरा करते हैं!
    ©faizaeram

  • faizaeram 7w

    #HappyDays

    Happy days are never come,
    We take urge, to please and to come!
    ©faizaeram

  • faizaeram 13w

    #पत्थर

    किस कशमकश में उलझकर रह गया हूं,
    दिल हूं, बस पत्थर बनकर रह गया हूं!!!
    ©faizaeram

  • faizaeram 14w

    #बग़ावत

    तन्हाइयों से मेरी बनती है कुछ इतनी ज़्यादा,
    के तमाम शोरों से फ़िर मैंने बग़ावतें कर लीं!!
    ©faizaeram

  • faizaeram 15w

    किसी आना या जाना हमारे हाथों में नहीं है मगर अपनों को उनकी अहमियत का एहसास कराना ज़रूर हमारे हाथों में है! #hindipoetry#day#night#conversation#poetry#quarantinepoetry#selfmotivation#selftalk#ssr#appraise#karma#destiny

    Read More

    #दिन

    उसके यूं चले जाने से कोई बात तो नहीं,
    के वो एक दिन था कोई रात तो नहीं!!!
    ©faizaeram

  • faizaeram 20w

    #बुत-परस्त

    तू बुत-परस्त मेरा माबूद ख़ुदा है,
    के बस यूं तेरा-मेरा रस्ता जुदा है!!!
    ©faizaeram

  • faizaeram 27w

    #कोरोना

    हर कोई डरा है यहां फ़क़त इक डर से,
    जिंदगी सिसक रही है कोरोना के क़हर से!
    ©faizaeram