happy_rupana

"Are baba ruk...! hand Sanitize Kiye kya...?"

Grid View
List View
Reposts
  • happy_rupana 1d

    Har kissi ki life mein
    movies ki tarah villain ka hona jaroori nahi hota....
    Qismat hee kaafi hoti hai climax k liye....!
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 1d

    Identity : A fight with whom or God

    कैसी यह हवा है कैसे इसके बुल्ले हैं
    जलती है राख जहां बुझे हुए चुल्हे है.....
    भिखारियों की जहां होती जय जयकार है
    शहीदों के परिवार सड़कों पर रूले हैं....!

    भूखे के हाथ से रोटी खोकर
    है पत्थरों पर दूध डोलते....
    इंसान है खामोश यहां
    पत्थर है बोलते.......!

    कैसी हमारी किस्मत
    कैसे हमारे लेख हैं.....
    हमारे तन पर ना कपड़ा
    और दरगाहों पर ढेर हैं....!

    बस्तर तो धारण किए
    ना धारण किए इन्होंने विचार हैं....
    सच्चा सिख एक आधा
    बाकी नकली हजार है.....!

    जिन्होंने सच्चे दिल से है पूजा तुझे
    वह तो कचरे पर रूले हैं.....
    जलती है राख जहां
    .......बुझे हुए चुल्हे है.....!

    ©happy_rupana

    Ye poem ek aaise person ki taraf se likhi hai jo anaath hai.... Aur ye log usse uski identity, religion, caste poochte hai.... Lekin usse Kuch nahi pta hai.....
    Aur log uske sath discriminate karte hai....k na jaane wo kis dharam ka hai......? wo bhi wo log jinhe khud bhagwan ya dharam ke baare mein aur kuch nahi pta bss iske sivaye k unka konsa dharam hai..........!!

    @sprinklet @rani_shri @_aradhana @dadiesprincess @jiya_khan

    Read More

    जलती है राख जहां
    बुझे हुए चुल्हे है.....!
    (Please read the caption)
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 2d

    "इन पन्नों पर ही बिखेर देता हूं जज़बात मैं
    इन पर ही समेट लूंगा
    क्या करना है तू ही बता दे वरना
    तेरी याद में यह रात कर सबेर दूंगा......!!"


    #kuch_bhi #random
    @sprinklet @_aradhana @dadiesprincess @rani_shri @khalishhhh

    Read More

    इन पन्नों पर ही सिमट कर रह जाती है ये जिंदगी
    और लोग वाह-वाह कह कर चले जाते हैं
    खुद से लड़ते हुए बीत जाते हैं जमाने यहां
    लोग जिसे किस्मत बताते हैं...........!
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 3d

    "ना नफरत कर इन पन्नों से
    तुमसे ज्यादा इन पर ऐतबार है
    तुम तो हर बार ठुकरा कर मुझे चले जाते हो
    तुम्हारे बाद इन्होंने ही मुझे संभाल कर रखा बरकरार है...!
    ना नफरत कर इन पन्नों से......."

    #kuch_bhi #random
    @sprinklet @_aradhana @dadiesprincess @rani_shri @khalishhhh

    Read More

    बिखरे पन्ने,बिखरे अल्फाज,
    या कुछ अनकहे से जज्बात,

    और क्या मिलेगा तुझे..?
    मेरी दुनिया में आकर...!

    बस यही कुछ है मेरे पास......
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 3d

    #Kuch bhi...
    #random ����

    तुम ही तो याद नहीं करते हमें, आज तो कब्र ने भी किया है,
    आज फिर से तेरी यादों के सहारे एक और दिन बर्बाद किया है......

    लिख तो दूं पैगाम तुझ पर लेकिन तुम सुन पाओगे क्या
    जो लफ्ज़ मैं लिखते हुए तनहा हूं तुम उन लफ़्ज़ों को पढ़ पाओगे क्या.........?

    @dadiesprincess @rani_shri @_aradhana @sprinklet @jiya_khan

    Read More

    आज फिर से तेरे नाम एक पैगाम लिख रहा हूं
    इन बेजुबान से पन्नों पर गुमनाम लिख रहा हूं......
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 1w

    So sorry.... But ye post Maine aapke birthday par post karni thi..... Lekin... You know....

    @_aradhana kya likhu aap par..... Kuch samajh mein nahi aa rha.... Pehle to thanks for always supporting me........
    BTW... Main jab aapko pehli baar mila tha to mujhe laga k chehre se aap jitne cute hai... Utne hee attituded bhi hai... Lekin main galat tha..... Wo to aap jaldi kissi ko bulate nahi ho.....
    Sach mein aap bahut hee jayda ache insaan ho... Jiske liye unki family se bhadhkar koi bhi nahi....
    Thode Rude se... Bahut cute se....
    Jayda na bolne Wale.... Thode mute se.....
    Sabh ko samjhne Wale...... Alag se Ho aap... And thanks so much....
    God bless you dear...
    Always keep smiling... ��������

    Sorry agar kuch galat likh diya ho..... BTW... Keep smiling..... ��

    Read More

    सुंदर सा चेहरा
    चंचल सा मन है
    उनके हर लफ्ज़ में
    अलग सा ही अपनापन है
    उनकी कलम
    कुछ अजीब सा ही लिख जाती है
    अपनी दो लाइनों में ही
    जिंदगी को बयां कर जाती है
    बाकी सब तो ठीक है
    बस उनमें थोड़ा सा एटीट्यूड है
    बाकी मेरे दोस्त तो
    बहुत ही क्यूट हैं
    अजनबी से थोड़ी
    दूरी रखते बनाई है
    लेकिन एक बार जब दोस्त बन जाए
    तो साथ रहते हैं जैसे रहती साथ परछाई है
    और क्या लिखूं उन पर
    वह पहेली के जैसे हैं
    जिसे सिर्फ आप के
    यह पन्ने सुलझा सकते हैं
    खुश रहिए आप
    हमेशा अपनी जिंदगी में
    और कुछ नहीं हमारे पास देने को आपको
    बस यही दुआ कर सकते हैं.......
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 3w

    मंजिल से खूबसूरत है यह रास्ते...
    काश यह सफर यूं ही चलता रहे......!


    @sprinklet @_aradhana @dadiesprincess @rani_shri @jiya_khan

    Read More

    सुबह भी हो शाम भी हो
    यह बारिश भी गुमनाम सी हो
    खुशी भी हो गम भी हो
    खट्टे मीठे पल भी हो
    खामोश सा हर अल्फाज भी हो
    तो कभी दिन खामोश तो खामोश कभी रात भी हो
    बस यूं ही हर रोज सूरज ढलता रहे
    मंजिल से खूबसूरत है यह रास्ते...
    काश यह सफर यूं ही चलता रहे......!
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 3w

    A collaboration with sweet poison @ankita79moonlight ��

    @rani_shri @sprinklet @_aradhana

    Read More

    क्या करेगा
    प्यार दोस्ती को पाकर
    यह भी तो नफरत की तरह
    महज कुछ अक्षर हैं......

    गैरों की बस्ती में
    क्या उम्मीद रखनी अपनेपन की
    वहां भी तो
    कांटो का सफर है.....

    जो तेरा नहीं है
    उस से क्या शिकायत है
    गालिब...
    यहां पर तो भगवान भी एक पत्थर है....!
    ©happy_rupana

  • happy_rupana 4w

    Song: "ओ फकीरा......"

    ना मंजिल मिली ना मिले रास्ते
    यह क्यों है यह किस वास्ते
    मुझे बंजारे को घर मिला
    मैं दिल हूं तू धड़कन पिया
    ओ फकीरा...... फकीरा.......
    मैं लिखूं तुझ पर तू गायेगा...........

    तू फूल है मैं हूं कांटों सा
    तू चांद है मैं हूं रातों सा
    तेरे साथ हूं मैं ऐसे जैसे कृष्णा संग मीरा
    तेरे बिन मैं ऐसे जैसे बिन पन्नों किताब
    अब कौन तुझे यह बताएगा
    ओ फकीरा....... फकीरा.......
    मैं लिखूं तुझ पर तू गायेगा.........

    मैं कलम के जैसा तुम अल्फाज हो
    मैं बिखरा सा पन्ना तुम जज्बात हो
    मैं बुल्ले शाह सुदाइ... तू खुदा की खुदाई...
    मैं बिन लफ्जों की किताब... तू बिखरी स्याही...
    अब तेरे बिन मुझे कौन पढ़ पाएगा
    ओ फकीरा.... फकीरा.....
    मैं लिखूं तुझ पर तू गायेगा...........!

    मैं
    शायर
    तू
    शायरी
    पिया
    .....................ओ फकीरा........!

    By Happy Rupana

    __________________����������________________

    Tomorrow I wrote this song.... " oh fakira.... "

    #song #hindi_song #fakira
    @sprinklet @rani_shri @ru_malik @jiya_khan @_aradhana

    Read More

    Song: "ओ फकीरा......"

    ना मंजिल मिली ना मिले रास्ते
    यह क्यों है यह किस वास्ते
    मुझे बंजारे को तू घर मिला
    मैं दिल हूं तू धड़कन पिया
    ओ फकीरा.... फकीरा.......
    मैं लिखूं तुझ पर तू गायेगा...........
    (please read the caption)

    ©happy_rupana

  • happy_rupana 4w

    Ae Zindgi...

    मेरे अपनों को भी खिलौने
    अच्छे लगते थे जिंदगी में
    कुछ अभी तक मुझे खिलौना रहे मानते
    कुछ थक से यू गए
    कुछ पक से यूं गए
    कुछ आखिरी वक्त तक बेवजह रहे भागते
    कुछ ख्वाबों में जीने का
    कुछ गम को पीने का
    तो कुछ पहेली की तरह जिंदगी को रहे मानते
    जैसे शायर और कलम
    जैसे कुछ अधूरे से वो पल
    वैसे ही हैं तेरे मेरे ए जिंदगी ये राब्ते.........!!
    By ,
    Harpreet Singh (Happy Rupana)

    _____________��_____������_____��____________

    I don't know why I wrote this..... But ab likh diya to likh diya... Ab jhelo....

    #mirakee #life #apne #rabta #zindgi
    @sprinklet @rani_shri @jiya_khan @_aradhana @khalishhhh

    Read More

    रो दिया देखकर यह दिल एक आइना
    जो बुरे वक्त में भी हंसना था जानता......
    आज खुदा से भी नफरत है करने लगा यह दिल
    जो औरों को भी कभी अपना था मानता.....
    आज खुद से रुठ दिया जो औरों को मनाता था
    थक गया हूं मैं यूं बेवजह सा भागता......
    जैसे इन पन्नों का किताब से , आग का राख से
    वैसा ही है जिंदगी... तेरा मेरा राब्ता......!!!!!
    (read the caption)
    ©happy_rupana