Grid View
List View
Reposts
  • hum_ka_ek_tukra 4d



    कसूर तुम्हारा भी नहीं,

    मेरी परछाईं ने भी साथ छोड़ दिया "अंधेरे" में।।

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 7w



    जो अपना नहीं है उसे अपना बनाना चाहता है
    दिल है ये,
    सब जानते हुए भी अनजान सा हो जाता है।

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 11w

    _बारिश_

    आज फिर बारिश आयी थी,
    हाथ में चाय की कप भी थी,
    थे प्लेट में कुछ गरम पकोड़े,

    पर उसकी बातें ..उसकी बातें नहीं थी!!

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 15w

    _शक_

    "शक" उसी दूर से आती हुई एक गाने की धुन की तरह है जिसे हम कोई भी गाने पे बैठा देते है और हमे लगता है हम सही है!!

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 16w



    I want nothing between you and me
    Neither physically nor heartly!!!

    ©the blind lover

  • hum_ka_ek_tukra 16w



    Farrkk bas itna tha..
    She keeps her phone off for me
    I keep my phone on for her!!

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 16w



    देखो ना!
    आज कल मौसम भी कैसे,
    लोगों की तरह बदल रहा है!

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 16w



    सायद तुमने ही देर कर दी आने में

    मेरे दिल ने तुम्हे अब एक कल्पना मान लिया है!

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 19w

    _excuses_

    I can't make excuses
    'cause it is my game!

    ©hum_ka_ek_tukra

  • hum_ka_ek_tukra 19w

    मां! पता नहीं क्यों जब कभी भी बिन कंबल ओढ़े सो जाता हूं, लगता है तुम आकर कंबल ओढ़ा दोगे!!

    ©hum_ka_ek_tukra