Grid View
List View
Reposts
  • iamkush 25w

  • iamkush 26w

    दिल की जमी को अस्को से सोचना पड़ता है
    क्योंकि वैसे भी हर बाग़ में फूल नहीं खिलते ..

  • iamkush 27w

    वो साफ है उसे मैला मत कर
    किसी की बेटी है साहेब खेला मत कर

  • iamkush 28w

    रात और याद का कुछ मेल ऐसा है के
    जैसे एक जल और मछलियों का हाल

  • iamkush 29w

    पुरानी यादें और बीते हुए कुछ लम्हें
    नींद से हर रात सौदा कर लेते है

  • iamkush 29w

    मेरे पास छोड़ जाओ मेरे वादे
    मेरे पास छोड़ जाओ मेरे लम्हे
    मेरे पास छोड़ जाओ मेरे हर एक अलफ़ाज़
    मेरे पास छोड़ जाओ जो दिल तुम्हारे नाम किया था

  • iamkush 30w

    ये ईश्क है जनाब

    जो जी भर के हंसाएगा भी
    और दिल खोल कर रुलाएगा भी

    जो जीवनभर के साथ निभाएगा भी
    और बीच राह छोड़ भी जाएगा

  • iamkush 30w

    एक कुल्हड़ वाली चाय
    गंगा घाट पर तुम्हारे साथ
    तुम चाय में खो जाना
    में तुम्हारी झील सी आँखों में

  • iamkush 30w

    आज के आशिक़ कुछ यूह इश्क़ निभा रहे है
    बातें किसी और जुड़े
    रूह किसी और से जुड़े
    जिस्म किसी और से जुड़े
    और शादी करके किसी और से जुड़े

  • iamkush 30w

    जितने भी आप अच्छे
    बन ने का प्रयास करेंगे
    लोग उतना हि आपको को
    बुरा बन ने पर मजबूर करेंगे